S M L

केजरीवाल के समर्थन में उतरे शत्रु, कहा- दिल्ली को मिले पूर्ण राज्य का दर्जा

बीजेपी सांसद ने ट्वीट करके लिखा है कि दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिए जाने की मांग बीजेपी की एक मजबूत मांग रही है, अब जब अरविंद इसकी मांग कर रहे हैं तो इसका इतना कड़ा विरोध क्यों?

FP Staff Updated On: Jun 17, 2018 04:12 PM IST

0
केजरीवाल के समर्थन में उतरे शत्रु, कहा- दिल्ली को मिले पूर्ण राज्य का दर्जा

बीजेपी नेता और सांसद शत्रुघ्न सिन्हा ने एक बार फिर से दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के समर्थन में ट्वीट किया है. शत्रुघ्न शनिवार से ही लगातार केजरीवाल के समर्थन में ट्वीट कर रहे हैं. शनिवार को किए गए ट्वीट में शत्रुघ्न ने अपनी ही पार्टी बीजेपी पर निशाना साधा. शत्रुघ्न ने अपने ट्वीट में लिखा कि जननेता अरविंद केजरीवाल का धरना अपने आप में बहुत कुछ कहता है. डियर सर! दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिए जाने की मांग बीजेपी की एक मजबूत मांग रही है, अब जब अरविंद इसकी मांग कर रहे हैं तो इसका इतना कड़ा विरोध क्यों? हमें अपने जिद/अहंकार को दिल्ली और इसके लोगों की भलाई के लिए छोड़ देना चाहिए.

इसके बाद शत्रुघ्न ने कहा कि नहीं तो स्वर्गीय मनमोहन देसाई की फिल्म रोटी का ये गाना सही हो जाएगा 'ये पब्लिक है सब जानती.' इससे पहले की बहुत देर हो जाए हमें वाजिब शिकायतों पर गौर करना चाहिए. देर आए, दुरुस्त आए. जय हिंद.

शत्रुघ्न सिन्हा ने चार राज्यों के मुख्यमंत्रियों को अरविंद केजरीवाल से मिलने की इजाजत न देने के लिए एलजी की भी आलोचना की. उन्होंने लिखा कि अगर पश्चिम बंगाल, केरल, कर्नाटक और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्रियों को हमारे लोकप्रिय और पसंदीदा मुख्यमंत्री केजरीवाल से मिलने की इजाजत दे दी जाती तो कोई आसमान नहीं गिर जाता. यह बहुत ही सही वक्त है जब यह समझ जाना चाहिए वे मुख्यमंत्री हमारे देश के लोगों द्वारा इलेक्टेड (निर्वाचित) हैं न कि सेलेक्टेड. यह तानाशाही के एक प्रकार का नमूना है. अपनी ताकत का इस्तेमाल करके चुने गए मुख्यमंत्रियों को मिलने से रोकने से हमारी पार्टी की छवि ही खराब होगी और उन्हें अपने समर्थकों से सहानुभूति मिलेगी. इसे एक सोच के रूप में लें. अरविंद केजरीवाल के वाजिब मांगों को मान लेना चाहिए.

शत्रुघ्न सिन्हा ने रविवार को किए ट्वीट में एक बार फिर से यह कहा कि दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा दिए जाने की मांग उनकी, हमारी और हम सबकी है. हमें इस मांग को मान लेना चाहिए. इससे पहले की अनशन पर बैठे मंत्रियों की तबीयत खराब हो.

इसके बाद उन्होंने ट्वीट करके केजरीवाल की तारीफ भी की है. उन्होंने लिखा कि मैं केजरीवाल के समर्पण, प्रतिबद्धता और छवि की प्रशंसा करता हूं. उम्मीद और प्रार्थना करता हूं कि प्रशासन नौकरशाही इसे न दोहराए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi