S M L

आरक्षण और लोकतंत्र को लेकर अपनी ही सरकार पर बरसीं BJP सांसद फुले

फुले पहले भी कह चुकी हैं कि केंद्र सरकार की नीतियों के कारण एससी-एसटी, पिछड़ा वर्ग और अल्पसंख्यक खतरे में हैं

Updated On: May 13, 2018 01:01 PM IST

FP Staff

0
आरक्षण और लोकतंत्र को लेकर अपनी ही सरकार पर बरसीं BJP सांसद फुले

उत्तर प्रदेश के बहराइच से बीजेपी सांसद सावित्री बाई फुले ने एक बार फिर अपनी ही सरकार पर हमला बोला है. फुले ने अपनी बातों में संविधान समीक्षा और सुप्रीम कोर्ट के उस बयान का हवाला दिया जिसमें लोकतंत्र को खतरे में बताया गया था.

बीजेपी सांसद ने अपनी पार्टी के नेताओं पर निशाना साधते हुए कहा, 'ऐसा कहा जा रहा है कि देश के संविधान की समीक्षा की जाएगी. देश में आरक्षण को ऐसे समाप्त करेंगे कि रहना न रहना एक बराबर होगा, तो अगर भारत का संविधान और आरक्षण खत्म हो जाएगा तो देश का बहुजन समाज ही नहीं पूरे देश के लोगों के अधिकार खत्म हो जाएंगे.'

पूर्व में अपनी सरकार पर निशाना साधते हुए फुले कह चुकी हैं कि केंद्र सरकार आरक्षण खत्म करने की साजिश कर रही है. उन्होंने आरोप लगाया था कि केंद्र सरकार की नीतियों के कारण एससी-एसटी, पिछड़ा वर्ग और अल्पसंख्यक खतरे में हैं.

सावित्री बाई फुले ने आगे कहा, 'सुप्रीम कोर्ट के जज कह रहे हैं कि आज भारत का लोकतंत्र खतरे में है. कभी कहा जा रहा है कि हम भारत के संविधान को बदलने के लिए आए हैं. कभी कहा जा रहा है कि हम आरक्षण को समाप्त करेंगे, भारत के संविधान की समीक्षा करेंगे.

इससे पहले वे मोहम्मद अली जिन्ना को महापुरुष बता चुकी हैं. इस पर यूपी के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने ऐतराज जताते हुए उनके खिलाफ कार्यवाही की मांग की थी. इस पर पलटवार करते हुए फुले ने कहा कि जिन्ना महापुरुष थे इसलिए कहा है. क्या सच बोलना अपराध है?

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi