S M L

कठुआ रेप: आरोपियों के पक्ष में रहने वाले जसरोटिया को सरकार में अहम पद

जसरोटिया पर आरोप है कि उन्होंने रेप के आरोपियों के समर्थन में निकाली गई रैली में हिस्सा लिया था

FP Staff Updated On: Apr 30, 2018 05:21 PM IST

0
कठुआ रेप: आरोपियों के पक्ष में रहने वाले जसरोटिया को सरकार में अहम पद

जम्मू-कश्मीर कैबिनेट में फेरबदल हो गया. राज्यपाल एनएन वोहरा ने सोमवार को आठ मंत्रियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. इन मंत्रियों में एक विवादों में घिरे कठुआ से बीजेपी विधायक राजीव जसरोटिया हैं. कठुआ में 8 साल की एक बकरवाल लड़की से रेप और फिर उसकी हत्या के बाद जसरोटिया कुछ दिनों के लिए गायब हो गए थे. जसरोटिया पर आरोप है कि उन्होंने रेप के आरोपियों के समर्थन में निकाली गई रैली में हिस्सा लिया था.

जसरोटिया को मंत्री बनाए जाने के पीछे बीजेपी के कोर वोटों की चिंता माना जा रहा है क्योंकि कठुआ मामले के बाद प्रदेश सरकार पर इतना दबाव पड़ा कि बीजेपी के दो मंत्रियों चंदर प्रकाश गंगा और लाल सिंह को महबूबा कैबिनेट से इस्तीफा देना पड़ा. उस घटना के बाद 17 अप्रैल को बीजेपी प्रमुख सत शर्मा की अगुआई में बीजेपी के सभी मंत्रियों ने इस्तीफा देने का प्रस्ताव दिया. सूत्रों का मानना है कि सत शर्मा को इसलिए मंत्री बनाया गया क्योंकि दिसंबर में उनका बीजेपी अध्यक्ष का कार्यकाल समाप्त हो रहा है.

जम्मू-कश्मीर में बीजेपी के स्थानीय नेता मौजूदा प्रदेश अध्यक्ष से नाराज हैं इसलिए 2019 के लिए अभी से किसी नए चेहरे की तलाश शुरू हो गई है. सूत्रों के हवाले से इस पद के लिए अशोक कौल को सबसे पसंदीदा उम्मीदवार माना जा रहा है. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह प्रदेश हाई कमान के साथ बैठक कर चुके हैं. 24 अप्रैल की उस बैठक में सत शर्मा, निर्मल सिंह और अशोक कौल भी शामिल थे. शाह की उस बैठक का मकसद प्रदेश की कैबिनेट पर चर्चा करना था.

(न्यूज18 के लिए सुहास मुंशी की रिपोर्ट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Social Media Star में इस बार Rajkumar Rao और Bhuvan Bam

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi