S M L

AMU में जिन्ना की तस्वीर हिंदुत्व के कमजोर होने का नतीजा: BJP MLA

बैरिया क्षेत्र से विधायक सिंह ने कहा कि अगर जिन्ना मौर्य के आदर्श हैं तो उन्हें योगी मंत्रिमंडल से तत्काल नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे देना चाहिए

Updated On: May 04, 2018 03:34 PM IST

Bhasha

0
AMU में जिन्ना की तस्वीर हिंदुत्व के कमजोर होने का नतीजा: BJP MLA

बीजेपी के चर्चित विधायक सुरेंद्र सिंह ने अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) में पाकिस्तान के राष्ट्रपिता कहे जाने वाले मुहम्मद अली जिन्ना की तस्वीर लगे होने को ‘हिंदुत्व’ के कमजोर होने का नतीजा करार दिया है .

सिंह ने शुक्रवार को संवाददाताओं से कहा कि अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में जिन्ना की तस्वीर लगाए जाने और मांग के बावजूद उसे नहीं हटाना कमजोर हिंदुत्व का नतीजा है और इसके साथ ही यह भी कहा कि इस विश्वविद्यालय में हिंदुओं का वर्चस्व नहीं है, इसलिए वहां अभी तक जिन्ना की तस्वीर लगी हुई है .

उन्होंने कहा कि राजनीतिक दुर्बलता के कारण पाक परस्त ताकतों के विरुद्ध समुचित कार्रवाई नही हो पा रही है. जिन राज्यों में बीजेपी की सरकार है, वहां पाकिस्तान की हिमायत करने वाली शक्तियां कमजोर हो रही हैं.

सिंह ने आरोप लगाया कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी सरीखे राजनेता खुलेआम राष्ट्र विरोधी ताकतों के साथ खड़े हैं.

उन्होंने कथित रूप से जिन्ना को अच्छी शख्सियत बताने वाले उत्तर प्रदेश के काबीना मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य से नैतिकता के आधार पर इस्तीफा देने की मांग भी की.

बैरिया क्षेत्र से विधायक सिंह ने कहा कि अगर जिन्ना मौर्य के आदर्श हैं तो उन्हें योगी मंत्रिमंडल से तत्काल नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे देना चाहिए. जिन्ना मौर्य की नजर में महापुरुष हो सकते हैं, किसी राष्ट्र भक्त की नजर में नहीं.

यह पूछे जाने पर कि जिन्ना को शख्सियत करार देने के बाद भी मौर्य कैसे योगी सरकार में मंत्री बने हुए हैं, विधायक ने कहा कि कांटे से ही कांटा को निकाला जाता है. अब समय आ गया है कि छोटे कांटे को भी निकाल फेंका जाए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi