S M L

बीजेपी अब मेरे खिलाफ मां दुर्गा का इस्तेमाल कर रही हैः कन्हैया कुमार

बेगुसराय में चुनाव कैंपेनिंग के दौरान कन्हैया कुमार कबड्डी टूर्नामेंट्स का उद्घाटन करते और धार्मिक कार्यक्रमों में शामिल होते नजर आ रहे हैं

Updated On: Oct 23, 2018 11:20 AM IST

FP Staff

0
बीजेपी अब मेरे खिलाफ मां दुर्गा का इस्तेमाल कर रही हैः कन्हैया कुमार
Loading...

ज्वाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी के छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार अब दिल्ली से पटना शिफ्ट कर चुके हैं. दरअसल सीपीआई पार्टी ने आने वाले आम चुनाव में कन्हैया कुमार को बेगुसराय लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव लड़ने का अवसर दिया है. बेगुसराय में चुनाव कैंपेनिंग के दौरान कन्हैया कुमार कबड्डी टूर्नामेंट्स का उद्घाटन करते और धार्मिक कार्यक्रमों में शामिल होते नजर आ रहे हैं. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार 25 अक्टूबर को पटना के गांधी मैदान में भाजपा भगाओ देश बचाओ नामक एक रैली का आयोजन किया जाएगा जिसके समर्थन में कन्हैया कुमार भी उतरेंगे. कन्हैया कुमार का कहना है कि उनको बदनाम करने के लिए बीजेपी गहरी साजिश कर रही है. उन्होंने कई ऐसे मुद्दों पर न्यूज18 से खास बातचीत की.

एक ही टारगेट है कैसे कन्हैया कुमार को उलझा कर रखा जाए

जब उनसे 16 अक्टूबर की शाम हुई घटना के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वह मंसूरचक से सभा करके लौट रहे थे. भगवानपुर थाने के दहिया गांव में उनके काफिले पर हमला किया गया. वो भारतीय जनता युवा मोर्चा और बजरंग दल के कार्यकर्ता थे. उनकी तस्वीरें सुशील मोदी के साथ है. उन्हें स्थानीय बीजेपी एमएलसी रजनीश का संरक्षण प्राप्त है. उनकी मंशा ही नुकसान पहुंचाने की थी. उन्होंने कहा कि पूजा कहीं और हो रही थी और वो लोग कहीं और रुके थे. उन्होंने बताया कि बीएल शिक्षण संस्थान में एक परिचित से वह मिलने गए थे लेकिन उन लोगों ने वहां पहुंचकर भी हंगामा किया. उनके साथ एस्कॉर्ट पार्टी थी. प्रशासन के लोग बताएंगे कि क्या हुआ था. उनसे पूछा गया कि क्या उन्होंने मां दुर्गा पर भी कोई टिप्पणी की थी तो उन्होंने कहा कि जिसको पॉलिटिक्स करना है वो अपने ही क्षेत्र में आकर इस तरह की हरकत करेगा. ये सब बेकार की बाते हैं. एक ही टारगेट है कैसे कन्हैया कुमार को उलझा कर रखा जाए.

पांच मिनट के अंदर तमाम बीजेपी नेता वहां कैसे पहुंच जाते हैं

कन्हैया कुमार ने कहा- यह भाजयुमो और बजरंग दल का सुनियोजित राजनीतिक हमला था ताकि उनका चरित्र खराब किया जाए. यहां का माहौल खराब किया जाए. धार्मिक भक्ति भाव का माहौल है तो ये कैसे खराब किया जाए और उन्हें हिंदू विरोधी बताया जाए. जिसकी पिटाई हुई वो कोई गैर राजनीतिक व्यक्ति नहीं है. वो भाजयुमो का आदमी है. रॉड था, डंडा था, पचास आदमी थे तो किसी एक ही आदमी का सिर फूटेगा. अगर ये सच्चाई होती तो 40-50 आदमी के सिर फूटते. उन्होंने कहा कि बीजेपी के कट्टर समर्थकों ने हवा बनाने की कोशिश की है. ये गांव जो है दहिया उसका इतिहास पहले जानना जरूरी है. यहां के दो चार परिवार पुराने समय से आरएसएस से जुड़े हुए हैं. भगवानपुर चौक इकलौती ऐसी जगह है बेगूसराय में जहां बजरंग दल या बीजेपी का गढ़ है. अगर हमने बदमाशी की तो वहां के प्रखंड की गाड़ी क्यों तोड़ दी. ये राजनीतिक हमला है. कन्हैया ने कहा कि पांच मिनट के अंदर तमाम बीजेपी नेता वहां कैसे पहुंच जाते हैं. मतलब ये लोग कहीं पीछे ही बैठे हुए थे.

जिसको राजनीति करनी है, चुनाव लड़ना है वो मारपीट करेगा

जब उनसे पूछा गया कि मंगल पांडे ने आपको चेतावनी दी है तो उन्होंने कहा कि पहले तो उन लोगों ने कहा कि वह कन्हैया कुमार को नहीं पहचानते और अब कह रहे हैं जान लें बिहार जेएनयू नहीं है, तो अब कैसे पहचान गए. कोई रिश्तेदारी तो नहीं है. कन्हैया ने कहा- जो एमएलसी यहां बेगूसराय में साजिश किए वो मंगल पांडे के आदमी हैं. कन्हैया कुमार ने कहा- न्यायालय में वकील, एम्स में डॉक्टर, जएनयू में पीएचडी रोकने के लिए वीसी, और बिहार में राजनीतिक फायदे के लिए दुर्गा जी का इस्तेमाल कर रहे हैं. हम तो मंदिर भी जाएंगे. सामाजिक काम है. लोग बुलाते हैं जाएंगे. मंदिर-मस्जिद-गिरिजा हर जगह जाएंगे. जिसको राजनीति करनी है, चुनाव लड़ना है वो मारपीट करेगा. वो भी पूजा पंडाल में जाकर मारपीट करेगा और अपने ही इलाके में करेगा. मारपीट करना होगा तो बीजेपी नेता के घर पर जाकर करेगा.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi