S M L

बीजेपी ने तैयार कर लिया 2019 रण जीतने का पांच सूत्रीय एजेंडा

2018 में होने वाले विधानसभा चुनावों और 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी अपनाएगी यह फॉर्मुला

Updated On: Feb 11, 2018 10:17 PM IST

Bhasha

0
बीजेपी ने तैयार कर लिया 2019 रण जीतने का पांच सूत्रीय एजेंडा

बीजेपी ने 2018 में होने वाले कुछ राज्यों के विधानसभा चुनाव और 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए तैयारी शुरू करते हुए पांच सूत्री एजेंडा तैयार किया है.  इसमें बूथ स्तर पर टिफिन मीटिंग, युवा उद्घोष पहल, बजट घोषणा एवं सरकार की कल्याण योजनाओं को जनता के बीच रखना, पार्टी के कार्यकर्ताओं की नाराजगी दूर करना और पन्ना प्रमुखों की टीम को मजबूत बनाना शामिल है.

सांसद करेंगे टिफिन मीटिंग

हाल ही में बीजेपी संसदीय दल की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सांसदों से बूथ स्तर पर टिफिन मीटिंग करने का सुझाव दिया. साथ ही सांसदों को कार्यकर्ताओं की नाराजगी दूर करने का मंत्र दिया गया है. इस मंत्र के तहत बीजेपी सांसद अपने-अपने क्षेत्रों में जाकर बूथ स्तर पर टिफिन मीटिंग करेंगे. इन मीटिंग्स में सांसद, पार्टी कार्यकर्ताओं एवं अन्य लोगों के साथ टिफिन साझा करेंगे. टिफिन प्लान का विचार बीजेपी ने संघ से लिया है. इस योजना को पार्टी ने सबसे पहले गुजरात में आजमाया था.

बीजेपी युवा उद्घोष से जीतेगी 2019 का रण ?

बीजेपी के एक वरिष्ठ नेता ने मीडिया को बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का युवाओं एवं आम लोगों को पार्टी से जोड़ने पर जोर रहा है. युवाओं को जोड़ने की पहल के तहत इस वर्ष जनवरी में वाराणसी से ‘युवा उद्घोष’ अभियान की शुरूआत की गई है, और इसे पूरे देश में आगे बढ़ाया जाएगा.

भाजपा नेता ने बताया कि वाराणसी से युवा उद्घोष की शुरुआत होने के बाद संगठन ने ऐसी कवायद जोरशोर से पूरे देश में करने का विचार बनाया है. ऐसे आयोजन के दौरान युवाओं को संगठन साहित्य, प्रधानमंत्री के भाषण की किताबें आदि भी वितरित की जाएंगी.

यूथ ब्रिगेड के तहत प्राथमिकता ऐसे 17 वर्ष के युवाओं पर है जो पहली बार 2019 में वोट देंगे. प्रत्येक बूथ पर दस युवा के लक्ष्य के लिए इस उम्र सीमा में थोड़ी गुंजाइश भी रखी गई है कि जरूरत के हिसाब से 35 वर्ष तक के युवाओं को जोड़कर टीम तैयार की जाए. बूथ स्तर पर पार्टी को मजबूत बनाने के लिये ‘पन्ना प्रमुखों’ की टीम को प्रथमिकता दी जा रही है.

पार्टी की सख्त हिदायत 'कार्यकर्ताओं को खास तवज्जो दें सांसद'

मिशन 2019 के तहत बीजेपी सांसद अपने अपने क्षेत्र में मोदी सरकार की नीतियों का प्रचार-प्रसार करेंगे. बीजेपी शीर्ष नेतृत्व का पार्टी सांसदों को साफ संदॆश है कि अपने-अपने क्षेत्र में ज्यादा से ज्यादा सक्रिय रहें, इतना ही नहीं कार्यकर्ताओं को खास तवज्जो दें.

पार्टी नेतृत्व ने हाल ही में राजस्थान में उपचुनाव में हार को सबक के तौर पर लेने पर जोर दिया है. पार्टी ने सांसदों से कहा है कि पार्टी की छवि को नकारात्मक न बनने दें.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi