S M L

डूडी की शर्तों के आगे झुका कांग्रेस, झंवर को दिया जाएगा बीकानेर से टिकट

रामेश्वर डूडी ने पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी को फैक्स से इस संबंध में चिट्ठी भी भेजी है

Updated On: Nov 18, 2018 08:51 PM IST

FP Staff

0
डूडी की शर्तों के आगे झुका कांग्रेस, झंवर को दिया जाएगा बीकानेर से टिकट

कांग्रेस की रविवार को जारी हुई 18 प्रत्याशियों की सूची में बीकानेर पूर्व से कन्हैयालाल झंवर को टिकट देने के लिए कांग्रेस राजी हो गई है. पूर्व में इस सीट से टिकट यशपाल गहलोत को मिलने की घोषणा हुई थी, लेकिन झंवर की टिकट कटने से नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी नाराज हो गए . डूडी ने नोखा इलाके में आयोजित एक धार्मिक सभा में ऐलान कर दिया कि अगर झंवर को टिकट वापस नहीं दी गई, तो वे भी चुनाव नहीं लड़ेंगे. डूडी की इस घोषणा के बाद कांग्रेस में खलबली मच गई. इसके कुछ देर बाद ही कांग्रेस डूडी की शर्त मानने को तैयार हो गई.

कांग्रेस ने अपनी पहली सूची में बीकानेर पश्चिम की सीट से प्रबल दावेदार पार्टी के दिग्गज नेता पूर्व मंत्री डॉ. बीडी कल्ला का टिकट काटकर यशपाल गहलोत को दे दिया था. वहीं बीकानेर पूर्व सीट से तीन दिन पहले कांग्रेस ज्वॉइन करने वाले नोखा के वरिष्ठ नेता कन्हैयालाल झंवर को दिया गया था. झंवर को डूडी ने ही कांग्रेस ज्वॉइन करवाई थी. कल्ला का टिकट कटने से उनके समर्थक नाराज हो गए और उन्होंने बगावत करते बीकानेर में जमकर हंगामा किया. समर्थकों ने कल्ला को टिकट देने की मांग की.

धार्मिक सभा में की घोषणा

कांग्रेस ने हालात व कल्ला समर्थकों के दबाव के बाद रविवार को जारी अपनी तीसरी सूची में बीकानेर पूर्व की सीट से झंवर को हटाकर वहां से यशपाल गहलोत को टिकट दे दी और बीकानेर पश्चिम का टिकट डॉ. कल्ला को थमा दिया.

तीसरी सूची जारी होने के समय नेता प्रतिपक्ष रामेश्वर डूडी बीकानेर में कन्हैयालाल झंवर के साथ ही नोखा इलाके के मूंडवास गांव में एक धार्मिक सभा में थे. जैसे ही झंवर की टिकट कटने की सूचना आई तो डूडी ने वहीं पर नाराजगी जता दी. बाद में उन्होंने सभा में झंवर को साथ खड़ा करके घोषणा कर दी. डूडी ने कहा कि अगर झंवर का टिकट वापस नहीं दिया गया तो वे भी चुनाव नहीं लड़ेंगे.

राहुल गांधी को भेजा फैक्स

रामेश्वर डूडी ने पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी को फैक्स से इस संबंध में चिट्ठी भी भेजी थी. चिट्ठी में डूडी ने कन्हैयालाल झंवर को टिकट नहीं देने पर खुद भी चुनाव नहीं लड़ने की घोषणा की है. उन्होंने 6 सीटों पर जाट उम्मीदवार उतारने की भी मांग रखी है. डूडी ने 36 सीटों पर जाट उम्मीदवार उतारने की पैरवी की थी.

(न्यूज़ 18 के लिए रवि बिश्नोई की रिपोर्ट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi