S M L

बिहार में महागठबंधन बिखराव की ओर: सुशील मोदी

'मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लिए अपना कार्यकाल पूरा करना संभव नहीं लग रहा है'

Bhasha Updated On: Apr 03, 2017 03:24 PM IST

0
बिहार में महागठबंधन बिखराव की ओर: सुशील मोदी

बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि बिहार में जेडीयू-आरजेजी-कांग्रेस का महागठबंधन बिखराव की ओर बढ़ चला है.

साथ ही उन्होंने सवाल किया कि अगर यह अटूट है तब इन दलों के नेताओं को हर दिन इसकी मजबूती को लेकर बयान क्यों देने पड़ते हैं ? सुशील मोदी ने कहा कि दरअसल महागठबंधन कई मुद्दों पर न केवल बंटा हुआ है बल्कि अब बिखराव की ओर भी बढ़ चला है. जो हालात पैदा हुए हैं वैसे में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लिए अपना कार्यकाल पूरा करना संभव नहीं लग रहा है.

उन्होंने सवाल किया कि अगर महागठबंधन वाकई अटूट है तो उसकी मजबूती पर लोगों को रोज रोज बयान क्यों देने पड़ते हैं? एक तरफ ये लोग एकजुटता के दावे करते हैं तो दूसरी तरफ एक घटक दूसरे से पूछता है कि दो सांसदों वाली पार्टी के नेता प्रधानमंत्री पद के प्रत्याशी कैसे हो सकते हैं?

बीजेपी नेता ने कहा कि बिहार में जेडीयू-आरजेडी और कांग्रेस का तथाकथित महागठबंधन बिखराव की ओर अग्रसर है. कुछ ही दिन पहले वैशाली के राधोपुर में आयोजित सरकारी कार्यक्रम से न केवल मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की तस्वीर गायब थी बल्कि चारों तरफ आरजेडी के झंडे लहरा रहे थे. आरजेडी के अलावा सरकार में शामिल सहयोगी दल जेडीयू और कांग्रेस के किसी मंत्री और विधायक तक को कार्यक्रम में आमंत्रित नहीं किया गया था. इसी प्रकार मुख्यमंत्री के यात्रा कार्यक्रम में भी कहीं उपमुख्यमंत्री शामिल नहीं हुए.

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के चुनाव परिणाम आने के बाद लालू प्रसाद के इशारे पर राजद के वरिष्ठ नेता और पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ रघुवंश प्रसाद सिंह ने एसपी-कांग्रेस गठबंधन की हार के लिए नीतीश कुमार को जिम्मेवार ठहराया. नोटबंदी के मुद्दे पर भी महागठबंधन के दल आपस में बंटे रहे. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जहां नोटबंदी का समर्थन कर रहे थे वहीं कांग्रेस और आरजेडी विरोध में धरना और प्रदर्शन के कार्यक्रम आयोजित कर रहे थे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
DRONACHARYA: योगेश्वर दत्त से सीखिए फितले दांव

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi