S M L

PM मोदी के सामने नीतीश ने BJP को पढ़ाया शांति और सद्भावना का पाठ

स्वच्छ भारत अभियान समारोह में नीतीश कुमार ने कहा, 'देश का विकास कभी भी तनाव और विरोध से नहीं हो सकता है. सभी धर्मों और बिरादरी के प्रति सम्मान होना चाहिए तभी देश विकास के पथ पर आगे बढ़ सकेगा'

FP Staff Updated On: Apr 10, 2018 02:20 PM IST

0
PM मोदी के सामने नीतीश ने BJP को पढ़ाया शांति और सद्भावना का पाठ

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने देश में सांप्रदायिक सौहार्द और शांति की अपनी बात फिर दोहराई है. नीतीश ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मौजूदगी में यह बातें कहीं.

चंपारण सत्याग्रह आंदोलन के 100 साल पूरे होने के अवसर पर पीएम मंगलवार को बिहार दौरे पर हैं. इस दौरान मोतिहारी में आयोजित स्वच्छ भारत अभियान समारोह में नीतीश कुमार ने अपने संबोधन में कहा, 'देश का विकास कभी भी तनाव और विरोध से नहीं हो सकता है. सभी धर्मों और बिरादरी के प्रति सम्मान होना चाहिए तभी देश विकास के पथ पर आगे बढ़ सकेगा. देश आज सुलग रहा है, जरूरत है कि उसे शांति और सद्भाव का संदेश देने की जरूरत है.'

नीतीश के दिए इस बयान को उनके बीजेपी के प्रति नाराजगी के रूप में देखा जा रहा है. रामनवमी के दौरान बिहार में सांप्रदायिक हिंसा और तोड़फोड़ के बाद से नीतीश अपनी सहयोगी पार्टी और उसके कुछ नेताओं से नाराज हैं. समझा जा रहा है कि प्रधानमंत्री की मौजूदगी में नीतीश कुमार ने शांति और सद्भावना का संदेश देकर बिहार बीजेपी के नेताओं को इशारों-इशारों में नसीहत दी है.

17 मार्च को शोभा यात्रा जुलूस के दौरान भागलपुर में सांप्रदायिक हिंसा भड़क उठी थी. हिंसा की यह आग बाद में राज्य के कई और जगहों पर भी फैल गई थी जिसे लेकर नीतीश कुमार और उनकी सरकार की काफी किरकिरी हुई थी. काफी फजीहत होने के बाद भागलपुर सांप्रदायिक हिंसा के आरोपी केंद्रीय मंत्री अश्निनी चौबे के बेटे अरिजीत शाश्वत को पुलिस ने गिरफ्तार किया गया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi