S M L

भूपेश बघेलः 17 दिसंबर को लेंगे शपथ, कहा- नक्सलवाद एक गंभीर समस्या, तुरंत हल संभव नहीं

छत्तीसगढ़ के नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रायपुर में राज्यपाल से मिलने के बाद कहा- कल मेरे शपथ लेने के बाद ही डिप्टी सीएम और कैबिनेट मंत्रियों की नियुक्ति के बारे में फैसला किया जाएगा

Updated On: Dec 16, 2018 05:02 PM IST

FP Staff

0
भूपेश बघेलः 17 दिसंबर को लेंगे शपथ, कहा- नक्सलवाद एक गंभीर समस्या, तुरंत हल संभव नहीं

भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ के नए मुख्यमंत्री होंगे. रायपुर में रविवार को हुई विधायक दल की बैठक में उन्हें सीएम के रूप में चुन लिया गया है. सोमवार यानी 17 दिसंबर को वह अपने पद की शपथ लेंगे. छत्तीसगढ़ के नवनिर्वाचित मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रायपुर में राज्यपाल से मिलने के बाद कहा- कल मेरे शपथ लेने के बाद ही डिप्टी सीएम और कैबिनेट मंत्रियों की नियुक्ति के बारे में फैसला किया जाएगा. कांग्रेस अध्यक्ष सहित कई राष्ट्रीय नेताओं और कई राज्यों के मुख्यमंत्रियों के इस शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने की बात है.

उन्होंने आगे कहा- नक्सलवाद की समस्या एक बहुत ही गंभीर समस्या है. कोई भी इसे तुरंत हल नहीं कर सकता है. उनके पास बहुत मजबूत पकड़ है. नक्सल प्रभावित इलाकों में लोगों के समर्थन के साथ दृढ़ कदम उठाए जाने पर हम उन्हें खत्म करने में सफल होंगे.

बघेल राजनीतिक गलियारे में अपने आक्रामक तेवर के लिए जाने जाते हैं

भूपेश बघेल ने लंबे समय तक कांग्रेस पार्टी के लिए सड़कों पर संघर्ष किया है. वह सिर्फ रमन सिंह सरकार के खिलाफ ही नहीं बल्‍क‍ि अजीत जोगी की नई पार्टी से मिली चुनौती के आगे भी डटे रहे थे. भूपेश बघेल कांग्रेस प्रदेश कमेटी के प्रमुख हैं. किसान परिवार से ताल्‍लुक रखने वाले भूपेश बघेल राजनीतिक गलियारे में अपने आक्रामक तेवर के लिए जाने जाते हैं.

बघेल का नाम कई तरह के विवादों में फंसा हुआ है

मध्‍य प्रदेश के दुर्ग (अब छत्तीसगढ़) में 23 अगस्त 1961 को जन्मे भूपेश बघेल ने 80 के दशक में कांग्रेस के साथ ही राजनीतिक पारी शुरू की थी. कुर्मी क्षत्रिय परिवार से ताल्‍लुक रखने वाले बघेल राज्‍य में पार्टी की जीत पर कह चुके हैं कि राहुल गांधी ने उन्‍हें छत्तीसगढ़ में कांग्रेस को बहुमत दिलाने की जिम्मेदारी सौंपी थी और उन्‍होंने यह कर दिखाया. हालांकि खुद बघेल का नाम कई तरह के विवादों में फंसा हुआ है जिसमें सेक्‍स सीडी कांड से लेकर संपत्त‍ि का मामला भी है. सीडी कांड पर सीबीआई कोर्ट में प्रकरण के अलावा उनके खिलाफ रायपुर न्यायालय में बलवा व शासकीय कार्य में बाधा पहुंचाने का मामला भी विचाराधीन है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi