S M L

मध्यप्रदेश चुनाव: बीजेपी के 'लकी' मैदान में ही कमलनाथ भी शपथ लेंगे!

बीजेपी ने अपने सभी बड़े आयोजन जंबूरी में ही आयोजित किए हैं. यहां तक कि 2018 के विधानसभा चुनावों का शंखनाद भी इसी मैदान से किया था, लेकिन इस बार किस्मत ने साथ नहीं दिया

Updated On: Dec 16, 2018 10:06 PM IST

FP Staff

0
मध्यप्रदेश चुनाव: बीजेपी के 'लकी' मैदान में ही कमलनाथ भी शपथ लेंगे!

पीसीसी अध्यक्ष कमलनाथ 17 दिसंबर को मध्य प्रदेश के नए सीएम के तौर पर शपथ लेने जा रहे हैं. कमलनाथ ने अपने शपथ ग्रहण के लिए उसी जंबूरी मैदान को चुना है जिसे अब तक बीजेपी के लिए शुभ माना जाता रहा. बीजेपी के कार्यकर्ता महाकुंभ से लेकर शिवराज के शपथ ग्रहण तक जैसे बड़े आयोजन जंबूरी में ही आयोजित हुए हैं.

17 दिसंबर को कमलनाथ इसी जंबूरी मैदान में आयोजित भव्य समारोह में मुख्यंत्री पद की शपथ लेंगे. कमलनाथ के शपथ ग्रहण का कार्यक्रम इससे पहले भोपाल के ही लाल परेड ग्राउंड पर आयोजित होना था, लेकिन बाद में इसे जंबूरी मैदान में करने का फैसला किया गया.

शपथ ग्रहण का कार्यक्रम जंबूरी मैदान में तय होने के साथ ही इसके साथ जुड़े तमाम मिथक भी चर्चा में हैं. बीजेपी अब तक अपने तमाम बड़े आयोजन इसी मैदान पर करती आई है और ये चर्चा-ए-आम हो गई कि जंबूरी मैदान बीजेपी के लिए शुभ है.

ये भी पढ़ें: कमलनाथ के शपथ ग्रहण में कल शामिल नहीं होंगी ममता बनर्जी

बीजेपी के लिए जंबूरी मैदान के शुभ हो जाने की कड़ियां कुछ इस तरह जुड़ती हैं.

- बतौर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने 2008 और 2013 में इसी मैदान पर शपथ ली थी.

- शिवराज सिंह चौहान के बतौर सीएम 5 साल पूरे होने पर भी बीजेपी ने जंबूरी में ही जश्न मनाया था.

- बीजेपी सरकार के बड़े आयोजन भी इसी मैदान पर आयोजित होते आए हैं.

- किसान महासम्मेलन से लेकर महिला स्व सहायता समूह का सम्मेलन जंबूरी मैदान पर ही आयोजित हुआ.

इस विधानसभा चुनाव का चुनावी शंखनाद भी बीजेपी ने इसी मैदान पर किया था. उस कार्यकर्ता सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह भी शामिल हुए थे. तब बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा ने कहा था कि जंबूरी मैदान हमारे लिए शुभंकर है. हम प्रदेश में जो भी अभियान शुरू करते हैं यहीं से शुरू करते हैं और उसमें विजयी होते हैं.

हालांकि इस बार वक्त के साथ शपथ लेने वाला चेहरा भी बदल गया है और जंबूरी का शुभंकर कांग्रेस के साथ है. ये तो अतीत की बात हुई कि जो जंबूरी बीजेपी और शिवराज के लिए शुभ रहा, आज की हकीकत वक्त के साथ बदली है और इस बदले निजाम में क्या कांग्रेस का शुभ वक्त भी जंबूरी से ही शुरु हो रहा है!

(न्यूज18 हिंदी के लिए शरद श्रीवास्तव की रिपोर्ट)

ये भी पढ़ें: मुख्यमंत्री पद की शपथ कल लेंगे कमलनाथ, राहुल सहित कई दिग्गज नेता रहेंगे मौजूद

 

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi