S M L

2019 में एकजुट होकर नरेंद्र मोदी सरकार को हटाएंगे: राहुल गांधी

पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दाम के विरोध में बुलाए गए भारत बंद के दौरान अपने भाषण में कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, प्रधानमंत्री मोदी भ्रष्टाचार, महंगाई, महिलाओं के प्रति बढ़ते अपराध के खिलाफ कुछ नहीं बोलते हैं

Updated On: Sep 10, 2018 01:09 PM IST

FP Staff

0
2019 में एकजुट होकर नरेंद्र मोदी सरकार को हटाएंगे: राहुल गांधी

पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दाम के विरोध में आज यानी सोमवार को कांग्रेस ने एक दिन का भारत बंद बुलाया है. उसके बुलाए बंद को डीएमके, एनसीपी, टीडीपी, एमएनएस समेत 20 राजनीतिक पार्टियों ने अपना समर्थन दिया है.

भारत बंद के दौरान सोमवार सुबह कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राजघाट से रामलीला मैदान तक एक विरोध मार्च निकाला. इस दौरान उनके साथ अशोक गहलोत, गुलाम नबी आजाद समेत पार्टी के अन्य नेता भी मौजूद थे. राहुल कैलाश मानसरोवर की अपनी यात्रा को अधूरा छोड़कर भारत बंद में शामिल होने पहुंचे थे.

रामलीला मैदान के मंच पर राहुल गांधी, यूपीए की चेयरपर्सन सोनिया गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह भी धरने पर बैठे. उनके साथ एनसीपी के अध्यक्ष शरद पवार और जेडीयू के बागी नेता शरद यादव भी मंच पर नजर आए.

इस दौरान राहुल गांधी ने नरेंद्र मोदी और केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि 2014 में नरेंद्र मोदी ने पूरे देश में घूमकर बड़े-बड़े वादे किए थे. लेकिन प्रधानमंत्री बनने के बाद उन्होंने अपना किया एक भी वादा पूरा नहीं किया. उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार, महंगाई, महिलाओं के प्रति बढ़ते अपराध के खिलाफ प्रधानमंत्री खामोश रहते हैं, वो इस पर कुछ नहीं बोलते हैं.

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि नवंबर 2016 में हुई नोटबंदी से हिंदुस्तान के चोरों का काला धन सफेद हो गया. राहुल गांधी ने विपक्षी पार्टियों के साथ मिलकर बीजेपी को हराने की बात कही.

बता दें कि तेल की कीमतों में लगतार उछाल का दौर जारी है. पिछले 15 दिन से पेट्रोल और डीजल के दाम हर दिन बढ़ रहे हैं. सोमवार को दिल्ली में पेट्रोल का दाम 23 पैसे बढ़कर 80.73 रुपए प्रति लीटर हो गया. जबकि डीजल के दामों में 22 पैसे का इजाफा हुआ है और अब यह 72.83 रुपए प्रति लीटर हो गई है.

वहीं मुंबई में एक लीटर पेट्रोल की कीमत बढ़कर 88.12 रुपए हो गई है, वहीं डीजल 77.32 रुपए की दर से बेचा जा रहा है. सरकारी तेल विपणन कंपनियां (इंडियन ऑयल, भारत पेट्रोलियम और हिंदुस्तान पेट्रोलियम) की दलील है कि  अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड ऑयल के दाम में आई उछाल और डॉलर के मुकाबले रुपए की कीमत के अवमूल्यन से पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी हुई है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi