S M L

अमित शाह-उद्धव मीटिंग से पहले शिवसेना बोली- अकेले लड़ेंगे 2019 का चुनाव

शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में छपे संपादकीय लेख में 2019 में अकेले लोकसभा चुनाव लड़ने की बात फिर से दोहराई है

Updated On: Jun 06, 2018 01:44 PM IST

FP Staff

0
अमित शाह-उद्धव मीटिंग से पहले शिवसेना बोली- अकेले लड़ेंगे 2019 का चुनाव

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की आज यानी बुधवार शाम को उद्धव ठाकरे से होने वाली मुलाकात से पहले शिवसेना ने सहयोगी बीजेपी को आंखें दिखाई हैं. शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में छपे संपादकीय लेख में 2019 में अकेले लोकसभा चुनाव लड़ने की बात फिर से दोहराई है.

इस लेख में यह भी कहा गया कि नरेंद्र मोदी सरकार ने अपने वोटरों के बीच भरोसा खो दिया है. इसलिए पार्टी को चाहिए कि वो इसकी असली वजहों पर गौर करे. शिवसेना ने अमित शाह के 'संपर्क फॉर समर्थन' पर भी तंज कसते हुए पूछा, क्या बीजेपी अध्यक्ष एनडीए के पूर्व सहयोगी टीडीपी अध्यक्ष चंद्रबाबू नायडू से भी मिलेंगे.

मंगलवार को अमित शाह की तरफ से 'संपर्क फॉर समर्थन' के तहत उद्धव ठाकरे से मिलने की बात कही गई थी. दोनों नेताओं के बीच मुंबई के मातोश्री में बुधवार शाम 6 बजे यह मुलाकात होनी है. शिवसेना के राज्यसभा सांसद संजय राउत ने मंगलवार को इसकी पुष्टि करते हुए कहा था कि, अमित शाह की ओर से उद्धव ठाकरे से मिलने का समय मांगा था.

बता दें कि पिछले साल मुंबई में हुए महासम्मेलन में शिवसेना ने बीजेपी से अलग होकर 2019 का चुनाव लड़ने की घोषणा की थी. दोनों पार्टियों के बीच पिछले कुछ वर्षों से संबंधों में कड़वाहट आई है. उद्धव समेत शिवसेना के अन्य नेता सार्वजनिक तौर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी पर निशाना साधते रहे हैं.

हाल में संपन्न हुए पालघर लोकसभा उपचुनाव में बीजेपी और शिवसेना आमने-सामने थीं. चुनाव प्रचार के दौरान शिवसेना ने बीजेपी पर कड़े प्रहार किए थे.

महाराष्ट्र में लोकसभा की 48 सीटें हैं. 2014 में बीजेपी-शिवसेना गठबंधन ने 42 सीटें जीती थी. सीटों के लिहाज से यूपी के बाद महाराष्ट्र सबसे बड़ा राज्य है. ऐसे में बीजेपी नहीं चाहेगी कि उसका पुराना और मजबूत साथी शिवसेना उससे अलग होकर चुनाव लड़े जिससे उसे सीटों का नुकसान उठाना पड़े.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi