S M L

नोटबंदी से निराश रामदेव ने कहा, 3 से 5 लाख करोड़ का घोटाला हुआ

रामदेव का आरोप, आरबीआई बैंक के अधिकारियों ने मिलकर तीन से पांच लाख करोड़ तक का घोटाला किया है.

Updated On: Dec 17, 2016 07:46 AM IST

Krishna Kant

0
नोटबंदी से निराश रामदेव ने कहा, 3 से 5 लाख करोड़ का घोटाला हुआ

नरेंद्र मोदी सरकार के नोटबंदी के फैसले से हुई परेशानियों के बीच सिर्फ आम जनता ही परेशान नहीं है. कभी कालाधन के खिलाफ मुहिम छेड़ने वाले बाबा रामदेव भी निराश हैं. साथ ही उनका आरोप है कि नोटबंदी के फैसले के बाद आरबीआई बैंक के अधिकारियों ने मिलकर तीन से पांच लाख करोड़ तक का घोटाला किया है.

बाबा रामदेव ने हिंदी वेबसाइट 'द क्विंट' से एक विशेष बातचीत में यह गंभीर आरोप लगाया है. जयपुर में एक कार्यक्रम के दौरान हुई बातचीत में उन्होंने नोटबंदी को फ्लॉप बताया. उनके मुताबिक, नए नोटों की आपूर्ति में बड़ा घोटाला हुआ है. यह तीन लाख करोड़ से लेकर पांच लाख करोड़ तक हो सकता है.

वेबसाइट पर बाबा रामदेव से बातचीत का वीडियो मौजूद है. इसमें रामदेव कहते हुए सुने जा सकते हैं कि 'मुझे ऐसा लगता है कि हजारों नहीं, शायद लाखों करोड़ रुपए बैंक वालों ने बना लिए. तीन से पांच लाख करोड़ का घोटाला मिलेगा इसमें.'

वे आगे कहते हैं, 'कैश की कमी नहीं थी. कैश सारा का सारा बेईमान लोगों को दे दिया गया. इसे लागू करने में कुछ चीजों को सुधारा जा सकता था. मुझे ऐसा लगता है कि मोदी जी ने भी इतना नहीं सोचा होगा कि बैंक वाले इतने बेईमान निकलेंगे.' उनके मुताबिक, यह काफी दुर्भाग्यपूर्ण है. यह देश के तंत्र पर गंभीर सवाल खड़े करता है.

उन्होंने कहा, 'शक आरबीआई के भी कुछ लोगों पर है. जो कि बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है और बहुत बड़ा प्रश्नचिन्ह है हमारी व्यवस्था पर.' उनका कहना है कि आरबीआई ने एक सीरीज के कई नोट छापे. अब इसे आरबीआई ने छापे, या ये कांग्रेस के समय के भी हो सकते हैं, लेकिन एक सीरियल नंबर के दो नोट मिले. यह देश की अर्थव्यवस्था पर बहुत बड़ा धब्बा है.'

बीजेपी से संबंधों को बताया अतीत की बात

वेबसाइट के लिए संजय पुगलिया को दिए इंटरव्यू में बाबा बीजेपी से भी कन्नी काटते दिख रहे हैं. कभी खुलकर भाजपा और नरेंद्र मोदी का समर्थन करने वाले रामदेव वेबसाइट पर मौजूद एक दूसरे वीडियो में कह रहे हैं कि 'बीजेपी से उनकी नजदीकी अतीत की बात है और सबके सामने है. संत को सबको समान दृष्टि से देखना चाहिए.' बीजेपी से संबंधों को लेकर वे कहते हैं कि 'जो हुआ वह कोई छुपा हुआ एजेंडा नहीं है, लेकिन ये अतीत की बात है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi