S M L

कुछ लोगों को अंबेडकर नहीं, बाबा भोले ज्यादा याद आ रहे हैंः मोदी

अपरोक्ष रूप से कांग्रेस पर निशाना साधते हुए पीएम ने कहा कि अंबेडकर के योगदान को मिटाने की कोशिश की गई. लेकिन वो सफल नहीं हो सका

Updated On: Dec 07, 2017 01:35 PM IST

FP Staff

0
कुछ लोगों को अंबेडकर नहीं, बाबा भोले ज्यादा याद आ रहे हैंः मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरूवार को नई दिल्ली में डॉ अंबेडकर इंटरनेशनल सेंटर का उद्घाटन किया. इस दौरान अपने भाषण में उन्होंने अपरोक्ष रूप से विपक्ष को निशाने पर लिया.

पीएम मोदी ने कहा कि 'इस सेंटर को बनाने का निर्णय 1992 में लिया गया था. लेकिन 23 साल तक कुछ नहीं हुआ. जो राजनीतिक दल बाबा साहेब का नाम लेकर वोट मांगते हैं, उन्हें तो शायद पता भी नहीं होगा. खैर उन्हें आजकल बाबा साहब नहीं, बाबा भोले जरा ज्यादा याद आ रहे हैं.'

उन्होंने कहा कि एनडीए की सरकार में योजनाओं को लागू करने में लापरवाही को अपराध माना जाता है.

अपरोक्ष रूप से कांग्रेस पर निशाना साधते हुए पीएम ने कहा कि अंबेडकर के योगदान को मिटाने की कोशिश की गई. लेकिन वो सफल नहीं हो पाई. बाबा साहेब लोगों के मन में बस चुके हैं. वो सबके परिवार का हिस्सा हो चुके हैं.

मोदी ने कहा जिस परिवार के लिए उनकी उपलब्धि को कम करने का असफल प्रयास किया गया, उससे भी ज्यादा वो लोगों के दिलो - दिमाग में बसे हैं.

प्रधानमंत्री ने कहा कि कुछ लोगों के लिए कई बार जन्म के समय मिली जाति, जन्म के समय मिली भूमि से ज्यादा महत्वपूर्ण हो जाती है. आज की नई पीढ़ी में वो क्षमता है जो इन सामाजिक बुराइयों को खत्म कर सकती है. पिछले 15-20 वर्षों में जो बदलाव मैं देख रहा हूं, उसका पूरा श्रेय नई पीढ़ी को ही दूंगा.

उन्होंने कहा कि स्वतंत्रता के इतने वर्षों बाद भी हमारे देश में ये स्थिति रही कि लाखों-करोड़ों लोगों के जीवन में ये समानता नहीं आई. बहुत बुनियादी चीजें, बिजली कनेक्शन, पानी कनेक्शन, एक छोटा सा घर, जीवन बीमा, उनके लिए जीवन की बहुत बड़ी चुनौतियां बनी रहीं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi