S M L

विधानसभा चुनाव: 5 राज्यों के चुनाव में हर कोना नाप दिया इन दिग्गजों ने, जानें टॉप पर कौन

देखिए, किसने जनता तक कितनी जनसभाओं और रैलियों के जरिए अपनी बात पहुंचाई

Updated On: Nov 30, 2018 02:28 PM IST

FP Staff

0
विधानसभा चुनाव: 5 राज्यों के चुनाव में हर कोना नाप दिया इन दिग्गजों ने, जानें टॉप पर कौन

पांच राज्यों (राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और मिजोरम) में होने वाले चुनावों में से तीन राज्यों में वोटिंग हो चुकी है. अब बस राजस्थान और तेलंगाना के चुनाव बाकी हैं. यहां 7 दिसंबर को वोटिंग है. इन चुनावों में कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी ने जमकर चुनावी कैंपेन चलाया है. राजस्थान और तेलंगाना में अभी भी प्रचार जारी है.

ऐसे में एक नजर इन पांचों राज्यों में पार्टियों के चुनावी रैलियों और रोड शो पर, आखिर किसने जनता तक कितनी जनसभाओं और रैलियों के जरिए अपनी बात पहुंचाई.

इन चुनावों में बीजेपी के स्टार प्रचारक रहे हैं- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, अमित शाह, शिवराज सिंह चौहान, वसुंधरा राजे, रमन सिंह, राजनाथ सिंह, योगी आदित्यनाथ और स्मृति ईरानी.

कांग्रेस की तरफ से राहुल गांधी, कमलनाथ, अशोक गहलोत, सचिन पायलट, ज्योतिरादित्य सिंधिया रहे हैं. पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने भी रैली की है. इसके अलावा राज बब्बर और नगमा जैसे कांग्रेसी नेताओं ने भी जनसभाएं की हैं.

बड़े नेताओं की गिनती

यूं तो पिछले कुछ विधानसभा चुनावों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ताबड़तोड़ रैलियां करते हैं लेकिन इस बार उनका औसत काफी कम रहा है. अगर पिछले एक महीने पर नजर डालें तो नरेंद्र मोदी ने 24 जनसभाएं और दो रोड शो किए हैं. उन्होंने हर दूसरे दिन पर दो-तीन जनसभाएं एक साथ की हैं.

इन चुनावों में से सबसे ज्यादा रैलियां और रोड शो अमित शाह ने किए हैं. उन्होंने एक महीने में 70 रैली और 20 रोड शो किया है.

वहीं, राहुल गांधी ने 60 जनसभाएं और 10 रोड शो किए हैं. उन्होंने भी हर दिन दो-तीन जनसभाएं एक साथ की हैं.

राज्यों के लिहाज से ये हैं आंकड़े

राज्यों के लिहाज से देखें, तो मध्य प्रदेश में सबसे ज्यादा रैली सीएम शिवराज सिंह चौहान ने की है. उन्होंने एक महीने में 158 जनसभा और 20 से ज्यादा रोड शो किए. शाह ने यहां 23 रैली और 6 रोड शो किए. पीएम मोदी ने 10 रैली की और योगी आदित्यनाथ ने 20 जनसभाएं कीं.

यहां कांग्रेस की ओर से ज्योतिरादित्य सिंधिया सबसे ज्यादा सक्रिय रहे. उन्होंने 90 जनसभाएं और 15 रोड शो किए. कमलनाथ ने यहां 58 जनसभाएं कीं. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने जनसभाएं और 5 रोड शो किए.

राजस्थान में वोटिंग हुई नहीं है. यहां नेताओं की रैली लगातार जारी है. यहां पीएम मोदी अब तक छह रैली कर चुके हैं. राहुल भी यहां लगभग 10 जनसभा कर चुके हैं. राजे और पायलट लगातार यहां कैंपेन में जुटे हुए हैं. दोनों ही नेता हर रोज तीन से छह रैलियां संबोधित कर रहे हैं. अशोक गहलोत भी कई इलाकों में लगातार रैलियां कर रहे हैं.

छत्तीसगढ़ में रमन सिंह ने 70 रैलियां की थीं. राहुल गांधी ने यहां 20 रैली तो पीएम मोदी ने चार, अमित शाह ने 17 रैली और तीन रोड शो और योगी ने 24 रैली की थी. यहां राजनाथ सिंह और स्मृति ईरानी ने भी 14 और 20 रैलियां की थीं.

तेलंगाना में कांग्रेस जमकर प्रचार कर रही है. इन पांचों राज्यों में सोनिया गांधी ने बस तेलंगाना में ही प्रचार किया है. उन्होंने यहां एक रैली की है. राहुल गांधी यहां आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू से मिलकर कई रैलियां कर चुके हैं. यहां पीएम मोदी ने चार रैलियां की हैं. कार्यवाहक सीएम केसीआर भी यहां लगातार रैलियां कर रहे हैं.

मिजोरम में 28 नवंबर को वोटिंग खत्म हो गई. यहां पीएम ने एक रैली और एक रोड शो किया. वहीं, राहुल और शाह ने दो-दो रैलियां कीं.

28 नवंबर को हुए मध्य प्रदेश की वोटिंग में वोटिंग प्रतिशत 75% था, वहीं मिजोरम में भी वोटिंग 73% रही. छत्तीसगढ़ में पहले चरण के चुनाव में 64.8% और दूसरे चरण के चुनाव में 71.93% वोटिंग हुई.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi