S M L

विधानसभा चुनाव 2018 Live Updates: शाम 5 बजे तक राजस्थान में 72.7 फीसदी वोटिंग, मतदान का समय हुआ पूरा

राजस्थान और तेलंगाना में मतदान का समय पूरा हो चुका है और ...

| December 07, 2018, 05:22 PM IST

FP Staff

0

हाइलाइट

Dec 7, 2018

  • 17:15(IST)

    राजस्थान और तेलंगाना में मतदान का समय पूरा हुआ

  • 16:28(IST)

    राजस्थान कांग्रेस ने चुनाव आयोग से 400 VVPAT खराब होने की शिकायत की है. कांग्रेस ने मशीन खराब होने पर मतदान धीमे होने की वजह से वोटिंंग का समय बढ़ाने की मांग की है.

  • 16:15(IST)

    कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राजस्थान में कांग्रेसी कार्यकर्ताओं से मतदान के बाद ईवीएम की सुरक्षा को लेकर सतर्क रहने को कहा है. उन्होंने मध्यप्रदेश में ईवीएम से जुड़ी घटना का उल्लेख करते हुए अतिरिक्त सतर्क रहने को कहा है.

  • 16:06(IST)

    केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन राठौड़ ने वोट डाल कर लोगों से मताधिकार के प्रयोग करने की अपील की

  • 15:56(IST)

    राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने ट्वीट कर लोगों से भारी संख्या में मतदान में शामिल होने की अपील की 

  • 15:52(IST)

    दोपहर 3 बजे तक राजस्थान में 59.43 फीसदी और तेलंगाना में 56.17 फीसदी मतदान

  • 15:10(IST)

    सीकर फतेहपुर में दो गुटों की झड़प के बाद हिंसा भड़क उठी और कई गाड़ियों को आग लगा दी गई.  हिंसक झड़प के चलते सुभाष स्कूल पोलिंग बूथ पर मतदान तकरीबन 30 मिनट तक प्रभावित रहा. 

  • 15:01(IST)

    तेलंगाना के कार्यवाहक सीएम केसीआर ने सिद्दीपेट में वोट डाला

  • 13:59(IST)

    टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा ने तेलंगाना विधानसभा चुनाव के लिए अपना वोट डाला

  • 13:51(IST)

    राजस्थान और तेलंगाना में वोटरों में जबर्दस्त उत्साह देखा जा रहा है. राजस्थान में 199 सीटों पर वोटिंग हो रही है. दोपहर 1 बजे तक 41 फीसदी मतदान हो चुका है. वहीं तेलंगाना में 119 सीटों पर मतदान हो रहा है और दोपहर 1 बजे तक 50 फीसदी मतदान हो चुका है. राजस्थान में हालांकि कई जगहों पर ईवीएम में खराबी की वजह से मतदान बाधित हुआ तो देर से भी शुरू हुआ. यहां तक कि राजस्थान के मुख्य सचिव और केंद्रीय मंत्री अर्जुन मेघवाल को भी पोलिंग बूथ पर ईवीएम की खराबी की वजह से वोट डालने के लिए इंतजार करना पड़ा. 

  • 13:27(IST)

    ईवीएम कैसे पहुंची घर?

    कांग्रेस ने ईवीएम की सुरक्षा पर उठाया सवाल, कांग्रेस ने चुनाव आयोग और मुख्य निर्वाचन अधिकारी से की शिकायत, कांग्रेस महासचिव सुशील शर्मा ने शिकायत में कहा,  पाली में चुनाव अधिकारी 5 ईवीएम मशीन मतदान केंद्र की बजाय अपने घर ले गया, चुनाव अधिकारी भाजपा उम्मीदवार ज्ञानचंद पारख और भाजपा नेता मदन राठौड़ के पडौसी, चुनाव अधिकारी का मतदान केंद्र की बजाय अपने घर ईवीएम ले जाना गंभीर मामला, ईवीएम की सुरक्षा पर ध्यान दे चुनाव आयोग

  • 13:24(IST)

    राजस्थान में दोपहर 1 बजे तक 42 फीसदी मतदान

  • 12:32(IST)

    झालावड़ में सबसे बुजुर्ग दंपति ने वोट डाला

  • 11:30(IST)

    जयपुर के किशनपुरा पोलिंग बूथ पर 105 साल की बुजुर्ग महिला ने वोट डाला

  • 11:25(IST)

    बीकानेर में बूथ नं 172 पर केंद्रीय मंत्री अर्जुन मेघवाल अपना वोट डालने के लिए मतदाताओं के साथ कतार में खड़े दिखाई दिए. 

  • 11:23(IST)

    राजस्थान में सुबह 11 बजे तक 21.89 फीसदी मतदान

  • 11:21(IST)

    हनुमानगढ़ जिले में 9 बजे तक 6.23 प्रतिशत मतदान हुआ. जिले के जसाना गांव में ग्रामीणों ने कर रखा है मतदान का बहिष्कार. नागौर  के नावां सीट पर 11 ईवीएम को बदला गया. खराबी के चलते बदली गई 11 ईवीएम. सीकर जिले में कई मतदान केंद्रों पर ईवीएम हुई खराब. सीकर के मारू स्कूल बूथ नम्बर 152, किरडोली गांव में बूथ नम्बर 50 पर मशीन हुई खराब. दोनों स्थानों पर बदली गई ईवीएम मशीन. भीलवाड़ा के गुलाबपुरा में ईवीएम खराबी से एक घण्टे देरी से शुरू हो सका मतदान. हुरडा के भाग संख्या 278 पर बालिका यूपीएस में ईवीएम खराबी से हुई देरी, ईवीएम बदलकर चालू किया मतदान.

  • 11:18(IST)

    जयपुर में मतदान में आई तेजी. 11 बजे तक 20.46 प्रतिशत हुआ मतदान. 9 बजे तक हुआ था 8 प्रतिशत मतदान.

  • 10:58(IST)

    जालोर के आहोर विधानसभा क्षेत्र के बूथ क्रमांक 253 और 254 में ईवीएम की खराबी की वजह से मतदान बाधित

  • 10:50(IST)

    राजस्थान में पिछले 25 साल से एक पैटर्न चला आ रहा है. राजस्थान की जनता हर पांच साल में सरकार बदल देती है. राजस्थान में कभी बीजेपी तो कभी कांग्रेस की सत्ता रहती आई है. इस बार भी कांग्रेस को ये उम्मीद है कि उसकी पांच साल बाद सत्ता में वापसी होगी. साल 1993 से राजस्थान में हर पांच साल में सरकार बदलने का शुरुआत हुई. 1993 में राजस्थान में भैरो सिंह शेखावत की सरकार थी. साल 1998 में कांग्रेस ने सत्ता में वापसी करते हुए अशोक गहलोत के नेतृत्व में सरकार बनाई. गहलोत पहली बार राज्य के सीएम बने. उसके बाद साल 2003 में बीजेपी ने सत्ता में वापसी की और वसुंधरा राजे सिंधिया को सीएम बनाया. साल 2008 में जनता ने वसुंधरा सरकार को सत्ता से हटा दिया और एक बार फिर अशोक गहलोत के नेतृत्व में सरकार बनी. लेकिन साल 2013 में वसुंधरा ने जोरदार कमबैक किया. उन्होंने रिकॉर्ड 163 सीटें जीतकर कांग्रेस का राज्य में सूपड़ा ही साफ कर दिया. इस बार वसुंधरा सरकार के सामने अपनी सत्ता बचाने की चुनौती है. वहीं कांग्रेस एंटी इंकंबेंसी की लहर का दावा करते हुए सत्ता में वापसी की उम्मीद बांध रही है.

  • 10:39(IST)

    सुबह 9 बजे तक राजस्थान में 6 फीसदी और तेलंगाना में  10.15 फीसदी मतदान

  • 10:34(IST)

    मतदान में महिलाएं भी बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रही हैं. राजस्थान के कई इलाकों में घूंघट में ही सही मतदान केंद्रों पर महिलाएं लाइन लगा कर खड़ी हैं. ये तस्वीरें तारानगर विधानसभा क्षेत्र की हैं.

  • 10:30(IST)

    ईवीएम खराब होने से मतदान बाधित

    अलवर किशनगढ़बास विधानसभा क्षेत्र में ईवीएम मशीन खराब  होने से 9:45 बजे तक मतदान शुरु नहीं हो सका था. खराब ईवीएम बदले जाने के बाद दूसरी ईवीएम भी चालू नहीं हो पा रही थी. जबकि जैसलमेर में तीन बूथ पर वीवीपैट मशीन खराब हो गई जिससे मतदान बाधित हुआ. पोलिंग बूथ में मतदाताओं की लंबी-लंबी कतारें देखी जा सकती हैं.

  • 10:26(IST)

    राजस्थान की 15वीं विधानसभा के लिए आज सुबह 8 बजे से वोटिंग शुरु हो गई है. राजस्थान की कुल 200 सीटों में से 199 सीटों पर शाम पांच बजे तक मतदान होगा. कुल 4 करोड़ 74 लाख 37 हजार 761 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे. चुनाव में जीत को लेकर अलग अलग दावे किए जा रहे हैं. प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि कांग्रेस पूर्ण बहुमत से सरकार बनाएगी जबकि गुलाबचंद कटारिया ने विकास के दम पर जीत का दावा किया है.

  • 10:19(IST)

    करोड़पति उम्मीदवारों का राजस्थान में रण

    राजस्थान के रण में 2274 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं. इनकी औसतन संपत्ति 2.12 करोड़ है. इसमें से 8 प्रतिशत उम्मीदवारों की संपत्ति 5 करोड़ से ज्यादा है. एडीआर और इलेक्शन वॉच की रिपोर्ट के मुताबिक राजस्थान में बीजेपी के 81 प्रतिशत तो कांग्रेस के 77 प्रतिशत उम्मीदवार करोड़पति हैं. इसके बाद राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी में 35 प्रतिशत, बीएसपी में 22 प्रतिशत और आम आदमी पार्टी के 18 प्रतिशत उम्मीदवार करोड़पति हैं.

  • 10:17(IST)

    कांग्रेस नेता अशोक गहलोत ने जोधपुर के बूथ नंबर 106 पर अपना वोट डाला.

  • 10:16(IST)

    तेलंगाना में 9.30 बजे तक 10.15 फीसदी मतदान दर्ज हुआ है.

  • 10:16(IST)

    टीआरएस सांसद कविता वोट डालने के लिए लाइन में लगी हुईं.

  • 09:55(IST)

    हैदराबाद के जुबली हिल्स इलाके के पोलिंग बूथ नंबर 148 पर साउथ फिल्मों के एक्टर चिरंजीवी वोट देने की लाइन में खड़े नजर आए. 

  • 09:52(IST)

    शास्त्रीपुरम के मेलारदेवपल्ली इलाके के पोलिंग बूथ नंबर 317 पर असाउद्दीन ओवैसी ने अपना कीमती वोट दिया.

विधानसभा चुनाव 2018 Live Updates: शाम 5 बजे तक राजस्थान में 72.7 फीसदी वोटिंग, मतदान का समय हुआ पूरा

राजस्थान में लगभग दो महीने के चुनावी कोलाहल के बाद आज मतदान किया जा रहा है. दो महीनों के दौरान राज्य में राजनीतिक पार्टियों के जरिए जमकर चुनावी रैलियां, रोड शो और जन सभाएं आयोजित की गई. अब राज्य के चार करोड़ से ज्यादा मतदाता 2274 उम्मीदवारों के राजनीतिक भाग्य का फैसला मतदान के जरिए कर रहे हैं.

वहीं तेलंगाना विधानसभा चुनाव के लिए पार्टियों के धुआंधार चुनाव प्रचार के बाद कुल 119 सीटों पर आज वोट डाले जा रहे हैं. राज्य में सत्तारूढ़ टीआरएस, कांग्रेस की अगुवाई वाले गठबंधन और भाजपा में त्रिकोणीय मुकाबला होने की संभावना है. तेलंगाना में पहली बार मतदाता सत्यापन पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपैट) का उपयोग किया जा रहा है. मतदान सुबह 7 बजे शुरू हो गया है और शाम 5 बजे खत्म होगा जबकि वामपंथी उग्रवाद प्रभावित क्षेत्रों के रूप में चिन्हित की गई 13 सीटों पर मतदान शाम 4 बजे तक ही होगा.

राजस्थान में 200 विधानसभा सीटों में से 199 विधानसभा सीटों के लिए 189 महिला उम्मीदवारों सहित 2274 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमाने के लिए चुनावी मैदान में उतरे हैं. अलवर जिले के रामगढ़ विधानसभा क्षेत्र में बीएसपी उम्मीदवार के निधन के कारण चुनाव स्थगित कर दिया गया है. राजस्थान के मुख्य निर्वाचन अधिकारी आंनद कुमार ने बताया कि प्रदेशभर में स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव कराने के लिए सुरक्षा के व्यापक प्रबंध किए गए हैं. राजस्थान में 4.77 करोड मतदाता हैं.

राज्य में मुख्य मुकाबला बीजेपी और कांग्रेस के बीच माना जा रहा है और लगभग 130 सीटों पर इन दोनों पार्टियों के उम्मीदवारों में सीधी टक्कर है. वहीं 50 सीटों पर मुकाबला त्रिकोणिय माना जा रहा है जिनमें से 45 सीटों पर दोनों पार्टियों के बागी उम्मीदवारों ने मुकाबले को रोचक बना दिया है. वहीं जाट नेता हनुमान बेनीवाल की राष्ट्रीय लोक तांत्रिक पार्टी ने 58 सीटों पर उम्मीदवार खडे करके दोनों पार्टियों को चुनौती दी है. बेनीवाल की मारवाड, शेखावटी और पूर्वी हिस्सों में जाट वोटों पर निगाह है.

बीजेपी राज्य की सभी सीटों पर चुनाव लड रही है जबकि कांग्रेस ने पांच सीटें गठबंधन की पार्टियों को देकर 195 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं. बीएसपी के 190, सीपीआई (एम) के 28, सीपीआई के 16 और 830 निर्दलीय उम्मीवादर चुनाव मैदान में हैं. वहीं राज्य की कुछ चर्चित सीटों में झालरापाटन, टोंक, सरदारपुरा और पोकरण हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi