S M L

बीमार हो चुकी है सरकार, मगर नहीं हो रहा इलाज: चिदंबरम

चिदंबरम ने सीईए अरविंद सुब्रम्णियम को 'अच्छा डॉक्टर' बताया है जिनकी सलाह मौजूदा सरकार नहीं मान रही है

Updated On: Feb 04, 2018 05:08 PM IST

FP Staff

0
बीमार हो चुकी है सरकार, मगर नहीं हो रहा इलाज: चिदंबरम

सीनियर कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम ने एनडीए सरकार को आर्थिकी के मुद्दे पर नकारा सरकार घोषित किया है. पूर्व वित्त मंत्री के मुताबिक सरकार 'भयानक मरीज' के रूप में तब्दील हो चुकी है जो खुद का इलाज खुद ही कर रही है.

चिदंबरम ने हालांकि मुख्य आर्थिक सलाहकार (सीईए) अरविंद सुब्रम्णियम को 'अच्छा डॉक्टर' बताया है जिनकी सलाह मौजूदा सरकार नहीं मान रही है. चिदंबरम ने एक ट्वीट में कहा, अक्टूबर 2014 में अरविंद सुब्रम्णियम जब से सीईए चुने गए हैं, तब से वे एक अच्छे डॉक्टर साबित हुए हैं और एनडीए सरकार एक भयानक मरीज. उन्होंने आगे कहा, सरकार लगातार नकारा की मुद्रा में दिख रही है. अर्थव्यवस्ता की फिलहाल जो हालत है, उसे वह नकारती जा रही है. कृषि संकट से भी उसका कोई वास्ता नहीं. सरकार बेरोजगारी भी मानने को तैयार नहीं है. विपक्ष अगर कुछ तर्क दे रहा है तो उसे भी नहीं माना जा रहा. हालत यह है कि 2014 में जिसे इन्होंने सीईए चुना, उसकी सलाह भी नहीं मान रहे.

पूर्व वित्त मंत्री ने तंज कसते हुए कहा, सीईए को मैं रेजिडेंट डॉक्टर मानता हूं जिसे हर रोज अपने पेशेंट को चेक करना चाहिए. मरीज अगर ज्यादा बीमार पड़ता है उसे दवाएं भी देनी चाहिए. लेकिन कोई अक्खड़ मरीज दवाएं नहीं लेता और खुद का इलाज खुद करता है. एक साथ कई ट्वीट कर सरकार पर हमला बोलते हुए चिदंबरम ने कहा, हालिया बजट अच्छा मौका था जब सरकार सुधार के कुछ रास्ते चुनती. लेकिन हुआ इसका उलटा. ईज (इनहैंस्ड एक्सेस एंड सर्विस एक्सीलेंस) प्रोग्राम का ढिंढोरा पीटकर लच्छेदार बातें परोस दी गईं.

कांग्रेस नेता ने आगे कहा, आर्थिक सर्वेक्षण में चार आर (रिकॉगनिशन, रिजोलुशन, रीकैपिटलाइजेशन और रिफॉर्म्स) की बात कही गई. हालांकि शुरू के तीन आर पर तो काम हुआ है लेकिन बैंकिंग सुधार अबतक अनछुए हैं. निर्यात में हल्की बृद्धि से सरकार लगता है संतुष्ट हो गई. जबकि संतुष्ट होने का कोई आधार नहीं है क्योंकि माल निर्यात घटकर कुछ साल पहले के स्तर पर आ गया है. सरकार जिस तरीके से अर्थव्यवस्था को हैंडल कर रही है, उससे चिदंबरम बिल्कुल खुश नहीं हैं.

(पीटीआई से इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi