S M L

केजरीवाल के बाद 'आप' के दूसरे नेता भी करने लगे विपश्यना

केजरीवाल 10 साल के दौरान 10 दिन के ध्यान शिविर के 35 सत्र पूरे कर चुके हैं

Updated On: Sep 24, 2017 06:03 PM IST

Bhasha

0
केजरीवाल के बाद 'आप' के दूसरे नेता भी करने लगे विपश्यना

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के विपश्यना ध्यान शिविर का उनकी पार्टी पर व्यापक प्रभाव पड़ा है और कई अन्य नेता भी इस प्राचीन बौद्ध पद्धति का अनुसरण करते हुए नजर आ रहे है.

इस कड़ी में उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, दिल्ली महिला आयोग की प्रमुख स्वाति मालीवाल, दिल्ली इकाई के पूर्व संयोजक दिलीप पांडे, पंजाब में पूर्व सह-प्रभारी दुर्गेश पाठक और अतिशी मर्लेना शामिल हैं. केजरीवाल हाल में नासिक के इगतपुरी में ध्यान शिविर में शामिल हुए थे.

19 सितंबर को अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘अभी विपश्यना ध्यान कोर्स समाप्त किया है. यह अत्यंत उल्लासित करने वाला था. उम्मीद है कि किसी दिन मैं और मेरी पत्नी खुद को ध्यान में पूरी तरह से लीन कर लेंगे.’

Jst finished Vipassna meditation course. Its bliss. Hope someday, me n my wife will fully immerse ourselves in meditation

— Arvind Kejriwal (@ArvindKejriwal) September 19, 2017

हर चुनाव से पहले विपश्यना सत्र में होते हैं शामिल 

पार्टी नेताओं का कहना है कि केजरीवाल 10 साल के दौरान 10 दिन के ध्यान शिविर के 35 सत्र पूरे कर चुके हैं. एक सहयोगी ने कहा ‘हर सत्र के बाद वह नये उत्साह और उमंग के साथ वापस लौटते हैं.’

'आप' के राष्ट्रीय संयोजक पार्टी के हर बड़ा चुनाव लड़ने से पहले या बाद में विपश्यना सत्र में शामिल होते है. वह वर्ष 2014 में हुए लोकसभा चुनाव के बाद भी ध्यान शिविर में शामिल हुए थे. उस चुनाव में आप का प्रदर्शन काफी खराब रहा था और उनकी पार्टी दिल्ली की सभी सातों सीटों पर हार गई थी.

पंजाब चुनावों से पहले भी केजरीवाल गत वर्ष अगस्त में हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला में ध्यान शिविर में शामिल हुए थे.

गैर सांप्रदायिक है विपश्यना का अभ्यास 

स्वाति मालीवाल ने कहा ‘आज मैं जो कुछ भी हूं वह केवल विपश्यना के कारण है. यह क्रोध पर काबू रखने में मेरी मदद करता है और मेरा ध्यान बढ़ाता है. मेरे काम के प्रति यह मेरे अन्दर एक नया उत्साह पैदा करता है. इसका एक अच्छा पहलू यह है कि यह अभ्यास गैर सांप्रदायिक है.

'आप' नेता संजय सिंह ने कहा कि केजरीवाल इस ध्यान प्रक्रिया को करने के लिए किसी को नहीं कहते है लेकिन उनमे ‘सकारात्मक परिवर्तन’ देखने के बाद वे उनका अनुसरण करते है.

पंजाब चुनावों के बाद बेंगलुरु में प्राकृतिक चिकित्सा के लिए केजरीवाल के साथ गए सिंह ने बताया कि ध्यान सत्र से उन्हें तनाव घटाने में मदद मिली और उनका वजन छह किलोग्राम घटा. उन्होंने वर्ष 2013 में भी ऐसे ही सत्र में भाग लिया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi