S M L

केजरीवाल की माफी से नाराजगी, पंजाब आप ने दिखाए बगावती तेवर

गुरुवार को अरविंद केजरीवाल ने बिक्रम मजीठिया पर लगाए गए आरोपों के लिए लिखित में माफी मांग ली थी, इससे पंजाब में पार्टी के नेता और विधायक नाराज हो गए हैं

Updated On: Mar 16, 2018 09:33 AM IST

FP Staff

0
केजरीवाल की माफी से नाराजगी, पंजाब आप ने दिखाए बगावती तेवर

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के मानहानि के एक मामले में अकाली दल नेता बिक्रम मजीठिया से लिखित में माफी मांगने के मामले ने पार्टी के भीतर नाराजगी पैदा कर दी है. सबसे ज्यादा नाराजगी आम आदमी पार्टी की पंजाब यूनिट में है. पंजाब आप के नेता सुखपाल सिंह खैरा और विधायक कंवर संधु ने खुले तौर पर नाराजगी जताई है. वहीं इस मामले पर पार्टी से नाराज चल रहे कुमार विश्वास ने भी केजरीवाल पर तंज कसा है.

केजरीवाल के लिखित में माफी मांगने के कुछ ही समय बाद कुमार विश्वास ने कटाक्ष करते हुए लिखा कि एकता बांटने में माहिर है, खुद की जड़ काटने में माहिर है, हम क्य उस शख्स पर थूकें जो खुद थूक कर चाटने में माहिर है.

केजरीवाल के माफी मांगने के बाद पंजाब आप के नेता सुखपाल सिंह खैरा ने एक बाद एक कई ट्वीट किए और इस बात पर नाराजगी जताई. उन्होंने कहा कि अरविंद केजरीवाल के माफी मांगने से हम पूरी तरह स्तब्ध हैं. हमें इस बात को स्वीकार करने में कोई गुरेज नहीं है कि इस मामले पर हमसे कोई चर्चा नहीं की गई.

उन्होंने आगे कहा कि हम इस मामले को लेकर शुक्रवार को मीडिया से बात करेंगे. हमारी ड्रग के खिलाफ लड़ाई जारी रहेगी. खैरा ने आगे बढ़ते हुए कहा कि मैं ऐसे समय में केजरीवाल की माफी का कारण नहीं समझ पा रहा हूं, जब एसटीएफ ने हाई कोर्ट से कहा है कि ड्रग्स के मामले में बिक्रम मजीठिया के खिलाफ हमारे पास पुख्ता सबूत है.

पंजाब के आप विधायक कंवर संधु ने कहा कि अगर आप सत्य के लिए खड़े होते हैं तो मानहानि के दावों का सामना करना पड़ता है. मैं खुद पंजाब के केबल माफिया द्वारा दाखिल मानहानि के केस का सामना कर रहा हूं. हम अंत तक लड़ेंगे. केजरीवाल की माफी से हम शर्मिंदा हैं, खासकर पंजाब के युवाओं से. हमसे चर्चा नहीं की गई. हमारी लड़ाई जारी रहेगी.

पार्टी के विधायक अमन अरोड़ा ने भी इस बात पर नाराजगी जताई है. उन्होंने कहा कि यह बहुत ही हैरान करने वाला और दुखद है. उन्होंने कहा कि मुझे अभी भी पूरा विश्वास है कि ड्रग्स के कारण इतने युवाओं की मौत नहीं हुई होती अगर पिछली सरकार ने ड्रग्स माफियाओं को संरक्षण नहीं दिया होता.

पंजाब चुनाव प्रचार के दौरान बिक्रम सिंह मजीठिया पर आम आदमी पार्टी के नेताओं अरविंद केजरीवाल, संजय सिंह, आशीष खेतान ने पब्लिक मीटिंग में और रैलियों के दौरान मजीठिया और उनके परिवार पर ड्रग्स की तस्करी करने और पंजाब में नशा बेचने के आरोप लगाए थे. चुनाव खत्म होने के बाद बिक्रम सिंह मजीठिया ने अरविंद केजरीवाल, संजय सिंह और आशीष खेतान पर अमृतसर जिला अदालत में मानहानि का केस कर दिया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi