S M L

अनिल विज का बयान, खादी ही नहीं नोटों से भी गायब हो जाएंगे गांधी

हरियाणा के मंत्री अनिल विज ने एक और विवादित बयान दिया है.

Updated On: Jan 14, 2017 03:19 PM IST

FP Staff

0
अनिल विज का बयान, खादी ही नहीं नोटों से भी गायब हो जाएंगे गांधी

खादी ग्रामोद्योग के कैंलेडर और डायरी से गांधीजी की तस्वीर की जगह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर पर भड़के विवाद को अब हरियाणा के मंत्री अनिल विज ने नई हवा दे दी है.

अपने विवादित बयानों के कारण चर्चा में रहने वाले अनिल विज का कहना है कि गांधी की तस्वीर को नोटों से भी हटा देना चाहिए. उन्होंने कहा कि धीरे-धीरे गांधीजी नोटों से भी गायब हो जाएंगे.  अनिल विज ने कहा है कि खादी के बाद अब धीरे-धीरे नोटों पर से भी गांधी जी की तस्वीर हट जाएगी. उन्होंने कहा कि जब से महात्मा गांधी की फोटो नोट पर लगी है, तब से नोट की कीमत गिरना शुरू हो गई।

हालांकि जब इस बयान पर हो-हल्ला मचा तो उन्हें इसे वापस ले लिया.

विज ने कहा कि मोदी को खादी की नई ब्रैंड इमेज बनाना एक अच्छा फैसला है. उन्होंने कहा कि गांधीजी का खादी पर पेटेंट नहीं है. खादी के साथ गांधी का नाम जुड़ने से खादी डूब गई है. इसकी बिक्री में गिरावट आई है. मोदी की तस्वीर लगने के बाद से खादी की बिक्री में 14 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. ऐसे में यह फैसला अच्छा है. उन्होंने यह भी कहा कि गांधी के कारण नोटों की वैल्यू भी गिरी है.

Anil Vij

अनिल विज

यह पूछे जाने पर कि अगर ऐसा है तो नए नोटों पर भी बीजेपी सरकार ने गांधी की तस्वीर क्यों छापी, विज ने कहा कि धीरे-धीरे वहां से भी गांधी हट जाएंगे.

इस बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए गांधीजी के परपोते तुषार गांधी ने कहा कि यह बयान बचकाना है. हालांकि तुषार ने कहा कि वह भी चाहते हैं नोट से गांधी जी हट जाएं, क्योंकि कालेधन और भ्रष्टाचार के मामलों से नोटों पर गांधीजी की छवि खराब ही होती है.

विपक्ष को मिला मुद्दा

अनिल विज के बयान के बाद विपक्षी दलों ने इसको लेकर बीजेपी पर हमला बोला. विज के बयान की निंदा करते हुए कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि गोडसे के वंशज बीजेपी के नेताओं से इसी प्रकार के बेतुके बयान की अपेक्षा करनी चाहिए. खादी इस देश की पहचान है. बीजेपी की मोदी सरकार दवाब की राजनीति का सूचक बन गई है. मोदी जी खुद गांधीजी से बड़ा साबित करने की नई लाइन खींचने में लगे हैं. बापू का नाम हटाना हो या धूमिल करना हो, गांधी इस देश की आत्मा हैं, आत्मा को कभी शरीर से अलग नही किया जा सकता.

आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रयाद यादव ने कहा है कि ये भारत के नालायक बेटे हैं, जो राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को अपमानित कर रहे हैं. ऐसे लोगों को थोड़ा सी भी शर्म नहीं है. इस मंत्री का दिमागी संतुलन बिगड़ गया है.

बीजेपी बचाव की मुद्रा में

बीजेपी ने इस पर सफाई देते हुए इसे विज का निजी बयान करार दिया है. हरियाणा के सीएम एमएल खट्टर ने कहा कि ये अनिल विज का निजी विचार है. उन्होंने कहा कि उन्हें नहीं पता विज ने किन संदर्भों में उन्होंने यह बात कही. जहां तक रुपए का मूल्य गिरने की बात है, इसके लिए कांग्रेस की नीतियां जिम्मेदार हैं न कि महात्मा गांधी. पार्टी का अनिल विज के बयान से कोई लेना देना नहीं है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi