S M L

राज्यपाल से बीजेपी ने की टीडीपी की शिकायत, बोली- सब दे रहे पीएम को 'गाली'

राज्य विधानसभा चुनाव में एक साल से कम का समय बचा है, ऐसे में बीजेपी टीडीपी को सत्ता से बेदखल करने की पूरी कोशिश में लग गई है

FP Staff Updated On: Jun 07, 2018 03:02 PM IST

0
राज्यपाल से बीजेपी ने की टीडीपी की शिकायत, बोली- सब दे रहे पीएम को 'गाली'

आंध्र प्रदेश में अपने पुराने सहयोगी तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) के खिलाफ बीजेपी ने मोर्चा खोल दिया है. बीजेपी के एक प्रतिनिधिमंडल ने गुरुवार को हैदराबाद में राज्यपाल से मुलाकात की. इस दौरान पार्टी ने पीएम मोदी के खिलाफ गैर संसदीय और अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल करने के लिए टीडीपी नेताओं के खिलाफ कार्रवाई की मांग भी की.

आंध्र प्रदेश बीजेपी के नव नियुक्त अध्यक्ष कन्ना लक्ष्मीनारायणा ने कहा कि विधायक, सांसद, मंत्री- हर कोई पीएम मोदी के खिलाफ गंदी भाषा का इस्तेमाल कर रहा है और गालियां दे रहा है. वे सभी जिम्मेदार और निर्वाचित सदस्य हैं. उन्होंने कहा कि मंत्री अखिला प्रिया समेत हम उन सभी के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हैं जिन्होंने गलत भाषा का इस्तेमाल किया है.

न्यूज- 18 की खबर के मुताबिक, लक्ष्मीनारायणा ने कहा कि राज्य में अलोकतांत्रिक शासन है. यहां पर एक बहुत ही खतरनाक प्रचलन चल रहा है. सरकारी अधिकारी टीडीपी कार्यकर्ता की तरह काम कर रहे हैं. पुलिस स्टेशन टीडीपी का कार्यालय बन गया है.

राज्य विधानसभा चुनाव में एक साल से कम का समय बचा है. ऐसे में बीजेपी टीडीपी को सत्ता से बेदखल करने की पूरी कोशिश में लग गई है. राज्य में बीजेपी टीडीपी के साथ गठबंधन सरकार का हिस्सा थी लेकिन मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने आंध्र प्रदेश को स्पेशल स्टैटस का दर्जा देने में हो रही देरी के कारण बीजेपी से गठबंधन तोड़ लिया था.

लक्ष्मीनारायणा ने कहा कि सत्तारूढ़ टीडीपी राज्य में पूरी तरह से असफल रही है और अब झूठ फैला रही है. केंद्र सरकार आंध्र प्रदेश के विकास के लिए प्रतिबद्ध है. पिछले चार वर्षों में 85 प्रतिशत वादे पूरे किए गए हैं. हमारी पार्टी हर घर जाएगी, पुस्तिकाएं वितरित करेगी और उन्हें बीजेपी द्वारा किए गए कल्याण और विकास कार्यों के बारे में बताएगी.

सत्तारूढ़ टीडीपी ने आरोप लगाया है कि बीजेपी वाईएसआर कांग्रेस और जन सेना प्रमुख पवन कल्याण के साथ तालमेल कर षड्यंत्र की राजनीति का सहारा ले रही है. दिलचस्प बात यह है कि भगवा पार्टी की राज्य इकाई ने किसी गठबंधन के मुद्दे पर इनकार करने वाली बात नहीं की है. गठबंधन के सवाल पर लक्ष्मीनारायणा ने कहा कि यह मेरे हाथों में नहीं है. शीर्ष नेतृत्व- अमित शाह और नरेंद्र मोदी इस पर फैसला लेंगे. राज्य विधानसभा चुनाव में अभी एक साल बाकी है.

(न्यूज-18 के लिए साक्षी खन्ना की रिपोर्ट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
'हमारे देश की सबसे खूबसूरत चीज 'सेक्युलरिज़म' है लेकिन कुछ तो अजीब हो रहा है'- Taapsee Pannu

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi