S M L

अमृतसर ब्लास्ट: विस्फोट के बाद हर जगह खून फैला था- हमले के चश्मदीद

भवन के अंदर मौजूद एक श्रद्धालु ने बताया, ‘मैंने विस्फोट के बाद घटनास्थल पर खून देखा. लेकिन मैंने हमलावरों को नहीं देखा.’

Updated On: Nov 19, 2018 10:54 AM IST

Bhasha

0
अमृतसर ब्लास्ट: विस्फोट के बाद हर जगह खून फैला था- हमले के चश्मदीद

अमृतसर के निरंकारी भवन में हुए हमले के बाद वारदात के चश्मदीदों ने हमले की खौफनाक कहानी सुनाई है. एक धार्मिक समागम में जुटे करीब 200 श्रद्धालुओं पर मोटरसाइकिल पर सवार दो हमलावरों ने हथगोले से हमला किया था. इस हमले में 3 लोगों की मौत हो गई जबकि 20 से ज्यादा लोग घायल हो गए.

हमले के चश्मदीद बताते हैं कि उस वक्त अपनी जान बचाने के लिए भागना पड़ा, जब वहां रविवार को मोटरसाइकिल सवार दो लोगों ने एक हथगोला फेंका. निरंकारियों पर हुए हमले के बाद घटना के दृश्य को याद करते हुए प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि वे दहशत में और स्तब्ध हैं.

उन्होंने बताया कि अमृतसर के बाहरी इलाके में स्थित इस भवन में हथगोला फेंके जाने से पहले तक यह रविवार का एक आम समागम था.

सिमरनजीत कौर ने परिसर के बाहर बताया, ‘हर रविवार मैं भवन में सेवा करती हूं. मैं उस वक्त मंच के पास ड्यूटी पर थी जब मैंने एक युवक को कुछ फेंकते और भागते देखा. उसका चेहरा ढंका हुआ था. वहां विस्फोट के बाद धुआं का गुबार छा गया. हर कोई अपनी जान बचाने के लिए भाग रहा था.’

एक व्यक्ति ने बताया कि उनकी बेटी एंट्रेंस गेट पर तैनात थी, ‘उसने मुझे बताया कि दो लोग वहां आए और उस पर पिस्तौल तान दी जिससे वह डर गई.’

भवन के अंदर मौजूद एक श्रद्धालु ने बताया, ‘मैंने विस्फोट के बाद घटनास्थल पर खून देखा. लेकिन मैंने हमलावरों को नहीं देखा.’

गुरप्रीत सिंह नाम के एक अन्य व्यक्ति ने बताया कि वह भवन के पास ही रहता है. उन्होंने बताया, ‘जब मैं वहां पहुंचा, मैंने देखा कि घायल लोगों को एंबुलेंसों में अस्पताल ले जाया गया.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi