विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

चीन के एतराज से फर्क नहीं, सीमा के भीतर विकास का अधिकार: शाह

भारत का रुख बिल्कुल साफ है, सीमा के भीतर विकास का कार्य करने के लिए पूरी तरह स्वतंत्र है

Bhasha Updated On: Sep 16, 2017 08:35 PM IST

0
चीन के एतराज से फर्क नहीं, सीमा के भीतर विकास का अधिकार: शाह

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने दो टूक शब्दों में कहा कि ‘देश की नीति सुषमा जी ने बहुत स्पष्ट कर दी है. हमें अपनी सीमाओं के भीतर देश का विकास करने का सार्वभौम अधिकार है और उस अधिकार का हम उपयोग करेंगे.’

वह शनिवार को झारखंड की राजधानी रांची में संवाददाता सम्मेलन में सवालों का जवाब दे रहे थे. वह तीन दिवसीय दौरे पर झारखंड आए हैं. सम्मेलन में उत्तरपूर्व के राज्यों में जापान के सहयोग से प्रस्तावित विकास कार्यों पर चीन के हाल के एतराज पर सवाल किए गए थे.

उन्होंने कहा, ‘भारत का रुख बिल्कुल साफ है कि हमारी सीमा के भीतर विकास का कार्य करने के लिए हम पूरी तरह स्वतंत्र हैं.’

रोहिंग्या मुसलमानों की मदद भारत म्यांमार के भीतर करेगा 

रोहिंग्या मुसलमानों को भारत से वापस भेजे जाने के बारे में पूछे गए एक सवाल के जवाब में शाह ने पलट कर पूछा, ‘क्या रोहिंग्या मुसलमानों पर भारत में अत्याचार हो रहे हैं?’

उन्होंने कहा, ‘ऐसी स्थिति में भारत की उनके साथ पूरी सहानुभूति है. भारत उनकी हर प्रकार की मदद करेगा, लेकिन यह मदद म्यांमार की सीमा के भीतर की जाएगी.’

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष ने कहा कि केंद्र की बीजेपी सरकार पर अभी तक भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं लगा है. पिछली यूपीए सरकार पर 12 लाख करोड़ रुपए से अधिक के घोटाले करने के आरोप हैं.

कांग्रेस को मजबूत करने का जिम्मा बीजेपी के पास नहीं 

कांग्रेस पर हमला बोलते हुए शाह ने कहा कि अब अगर वह कमजोर हो रही है तो उसको मजबूत करने का ठेका बीजेपी ने नहीं ले रखा है. वहां योग्यता के बदले वंशवाद को प्राथमिकता दी जाती है. वहीं बीजेपी में किसी को यह नहीं पता है कि अमित शाह के बाद अगला अध्यक्ष कौन होगा?’

उन्होंने कहा कि झारखंड में बीजेपी के नेतृत्व में बनी पूर्ण बहुमत की सरकार ने पिछले तीन साल में तेजी से विकास किया है. इसका एक उदाहरण है कि सरकार बनने के एक वर्ष के भीतर यह राज्य ‘ईज आफ डूइंग बिजनेस’ में देश में 36वें स्थान से तीसरे स्थान पर आ गया.

इतना ही नहीं झारखंड में आर्थिक विकास की दर पिछले वित्त वर्ष में पूरे देश में गुजरात के बाद सर्वाधिक थी और यहां 8.6 प्रतिशत की दर से विकास हुआ.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi