S M L

सरकार की आर्थिक सुधार नीतियों का परिणाम है क्रेडिट रेटिंग में सुधार: शाह

शाह ने कहा कांग्रेस की सरकार के दौरान अर्थव्यवस्था के हर मापदंड नीचे की ओर जा रहे थे और सोनिया-मनमोहन की सरकार नीतिगत पंगुता से ग्रस्त थी

Updated On: Nov 17, 2017 07:07 PM IST

Bhasha

0
सरकार की आर्थिक सुधार नीतियों का परिणाम है क्रेडिट रेटिंग में सुधार: शाह

अमेरिकी संस्था मूडीज ने 13 साल बाद भारत के क्रेडिट रेटिंग में सुधार किया है. भारत की क्रेडिट अब बीएए2 कर दी गई है. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने इसका स्वागत किया है.

शुक्रवार को उन्होंने कहा कि यह पीएम मोदी की आर्थिक सुधार की नीतियों का परिणाम है. सरकार की नीतियों से कारोबारी माहौल बेहतर हुआ है. आनेवाले समय में अधिक निवेश आएगा और भारत उच्च विकास के पथ पर अग्रसर होगा.

अमित शाह ने एक बयान में कहा कि पहले विश्व बैंक के कारोबार के अनुकूल माहौल की रेटिंग में भारत ने 30 स्थान की छलांग लगाई. अब मूडीज ने 13 साल में पहली बार भारत की रेटिंग में सकारात्मक बदलाव किया. ये इस बात को दिखाता है कि हमारी अर्थव्यवस्था सही दिशा में तेज गति से आगे बढ़ रही है.

पिछली सरकार की विफलता को दिखाता है 13 साल में ऐसा पहली बार होना 

उन्होंने जोर देकर कहा कि मूडीज ने स्वीकार किया है कि दीर्घकाल में भारत की विकास की संभावना बीएए2 रेटिंग वाले ज्यादातर देशों से बहुत ज्यादा है. साथ ही यह भी कहा है कि मोदी सरकार की आर्थिक सुधार नीतियों से कारोबारी माहौल में सुधार करेगा.

देशों को क्रेडिट रेटिंग देने वाली अमेरिकी संस्था मूडीज की ओर से किया गया यह सुधार भारत के लिए बड़ा सकारात्मक साबित हो सकता है.

शाह ने कहा कि 13 साल के अंतराल में ऐसा होने से स्पष्ट है कि सोनिया गांधी-मनमोहन सिंह के नेतृत्व में कांग्रेस की सरकार ने 10 सालों में देश के आर्थिक ढांचे को किस तरह से तहस-नहस कर दिया था.

कांग्रेस सरकार के समय देश ने देखा है बुरा दौर 

उन्होंने कहा कि देश ने कांग्रेस की सरकार के समय एक दौर ऐसा भी देखा है जब भारत को ‘फ्रेजाइल फाइव’ ग्रुप में रखा गया था. इन देशों की अपनी अर्थव्यवस्था तो समस्या थी ही, बल्कि ये वैश्विक अर्थव्यवस्था के सुधार में भी बाधा बन रही थी.

कांग्रेस की सरकार के दौरान अर्थव्यवस्था के हर मापदंड नीचे की ओर जा रहे थे और सोनिया-मनमोहन की सरकार नीतिगत पंगुता से ग्रस्त थी.

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत पहली बार विश्व की सबसे तेज गति से आगे बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बना. उम्मीद जताई कि देश की आर्थिक विकास दर जल्द ही 7.5 प्रतिशत तक पहुंच जाएगी. मोदी सरकार ने अर्थव्यवस्था के हर मापदंड में व्यापक सुधार किया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi