S M L

बीजेपी का 'स्वर्ण युग' तब होगा जब पंचायत से पार्लियामेंट तक राज होगा: अमित शाह

बैठक में वरिष्ठ नेताओं और केंद्रीय मंत्रियों को संगठन मजबूत करने के लिए 15 दिन देने को कहा गया

Bhasha Updated On: Apr 16, 2017 10:45 AM IST

0
बीजेपी का 'स्वर्ण युग' तब होगा जब पंचायत से पार्लियामेंट तक राज होगा: अमित शाह

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने आत्मसंतोष के खिलाफ पार्टी नेताओं को सचेत किया है. शनिवार को उन्होंने कहा कि, अभी शिखर पर पहुंचना बाकी है. साथ ही उन्होंने उन राज्यों में पार्टी के विस्तार की योजनाएं रखीं, जहां वह पारंपरिक तौर पर कमजोर है.

ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर में बीजेपी की दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी के उद्धाटन भाषण में शाह ने कहा कि, पार्टी का ‘स्वर्ण युग’ तब आएगा, जब वह पंचायत से लेकर पार्लियामेंट तक देश भर में शासन करेगी.

दक्षिण और पूर्वी भारत में पार्टी की बढ़त की महत्वाकांक्षी योजना पेश करते हुए शाह ने इस दावे को खारिज कर दिया कि, मध्य और पश्चिम भारत में दबदबे तथा असम और मणिपुर जैसे राज्यों में पहली बार जीत के साथ भगवा पार्टी अपने चरम पर है.

बैठक में मौजूद थे पार्टी के 13 मुख्यमंत्री 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत पार्टी के शीर्ष नेता इस मौके पर बैठक में मौजूद थे. शाह ने संगठन से हिमाचल प्रदेश, गुजरात और कर्नाटक में होने वाले विधानसभा चुनाव के अगले चरण के लिए जीत का संकल्प लेने के लिए कहा, जैसा कि इलाहाबाद में पिछले साल हुई राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में उत्तर प्रदेश समेत पांच राज्यों के चुनावों के लिए लिया गया था.

BJP Odisha Baithak

बीजेपी की दो दिन की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक ओडिशा के भुवनेश्वर में हो रही है (फोटो: पीटीआई)

बैठक में बीजेपी शासित 13 राज्यों के मुख्यमंत्री भी मौजूद थे. यह संख्या बीजेपी की स्थापना से लेकर अब तक की सबसे ज्यादा संख्या है.

शाह ने केरल, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल और ओडिशा जैसे राज्यों में पार्टी की बढ़त की संभावनाओं के बारे में बात करते हुए कहा कि, वह पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं से मिलने के लिए 95 दिन देश की यात्रा करेंगे. उन्होंने वरिष्ठ नेताओं और केंद्रीय मंत्रियों को संगठन को मजबूत करने के लिए 15 दिन देने के लिए भी कहा.

 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Social Media Star में इस बार Rajkumar Rao और Bhuvan Bam

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi