S M L

कांग्रेस के साथ मामूली मतभेद, 5 साल चलेगी सरकार: कुमारस्वामी

पूर्व प्रधानमंत्री के बेटे ने इस बात पर जोर दिया कि कांग्रेस और जेडी (एस) के बाच सबकुछ ठीक है और गठबंधन की सरकार पांच साल पूरे करेगी

FP Staff Updated On: Jun 26, 2018 06:29 PM IST

0
कांग्रेस के साथ मामूली मतभेद, 5 साल चलेगी सरकार: कुमारस्वामी

कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने 11 साल बाद सीएम पद की दूसरी पारी में एक महीने का कार्यालय पूरा कर लिया है. मुख्यमंत्री बनने के बाद न्यूज18 को दिए गए अपने पहले एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में पूर्व प्रधानमंत्री के बेटे ने इस बात पर जोर दिया कि कांग्रेस और जेडी (एस) के बाच सबकुछ ठीक है और गठबंधन की सरकार पांच साल पूरे करेगी.

आपने एक महीने मुख्यमंत्री के रूप में पूरा कर लिया है और अपनी गठबंधन सरकार के पहले बजट की तैयारी में व्यस्त है. इसके बारे में बताइए

हां, गठबंधन की सरकर ने एक महीने पूरे कर लिए हैं, और हम इसी तरह अपना पांच साल का कार्यकाल भी पूरा करेंगे. हर नई सरकार को अपना बजट पेश करना होता है, मैं भी उसकी तैयारी में लगा हूं. हमने बजट को सीरियसली लिया है और हम जनता को ध्यान में रखते हुए बजट पेश करेंगे. हर रोज मैं अधिकारियों और मंत्रियों के साथ कुछ प्री-बजट मीटिंग कर रहा हूं, सभी विभागों और मंत्रियों से अनुरोध है कि वे अपनी आवश्यकताओं पर चर्चा करें. आजकल मैं इसके लिए 18 घंटे काम कर रहा हूं. मैंने पहले ही 25 मंत्रालयों की समीक्षा की है और उनकी विस्तृत प्रतिक्रिया ली है.

बजट में सिर्फ मुख्यमंत्री नहीं है, सभी मंत्रियों को इसमें शामिल किया गया है. हमारी सरकार में 75% से अधिक नए मंत्री हैं, यहां तक कि पुराने मंत्रियों को अलग-अलग पोर्टफोलियो मिले हैं और बजट पर सबके अलग विचार हैं जैसे केजे जॉर्ज, आरवी देशपांडे. कृष्णा बायरे गौड़ा और यूटी खादर जैसे युवा नेताओं के पास भी नए पोर्टफोलियो हैं. नया बजट पेश करना अहंकार या शो-ऑफ का मुद्दा नहीं है. कर्नाटक के लोगों को कुछ नया देने के लिए सरकार का सामूहिक प्रयास है.

लेकिन आपके पूर्ववर्ती और समन्वय समिति के अध्यक्ष सिद्धरमैया ने बजट के बारे में कहा है कि इस साल पूर्ण बजट की आवश्यकता नहीं है?

हां, लेकिन कोई भी नई सरकार अपना नया बजट पेश करती है. यह एक नई सभा है. हमारे पास 100 से अधिक नए विधायक हैं. इसलिए हम नया बजट पेश करेंगे. हमारा बजट जनता के अनुसार ही होगा. हम सभी के साथ फेयर हैं और सबको कॉन्फिडेंस में लेकर सामूहिक निर्णय ले रहे हैं.

क्या वाकई सबकुछ ठीक है?

हां सब ठीक है, कोई भी बड़ा मुद्दा नहीं है. मेरी सरकार काफी अच्छा कर रही है. सभी मंत्री काम कर रहे हैं. वे राज्य की बैठक लोगों से मिल रहे हैं. मीडिया में केवल कुछ वर्ग मेरी सरकार की स्थिरता के बारे में बहुत कुछ अनुमान लगा रहे हैं, कुछ मामूली मुद्दे को हवा दे रहे हैं.

लोकसभा चुनाव 2019 के बारे में क्या कहेंगे? आपने हाल ही में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का समर्थन किया था

हम एक साथ लड़ेंगे. जब चुनाव नजदीक आएंगे तब इस बारे में चर्चा करेंगे. मैं अरविंद केजरीवाल के घर गया था उनके साथ हमारी एकजुटता व्यक्त करने, इसमें कुछ भी राजनीतिक नहीं है. एक निर्वाचित मुख्यमंत्री का लेफ्टिनेंट गवर्नर के घर पर धरने पर बैठना अभूतपूर्व है.

क्या जेडी (एस) और कांग्रेस के बीच किसानों की कर्ज माफी एक बड़ा मुद्दा नहीं है?

हमने वादा किया था कि अगर हम सत्ता में आते हैं तो किसानों का कर्ज माफ कर दिया जएगा. लेकिन ये अभी तक नहीं हुआ, यह गठबंधन की सरकार है. मैं अपने शब्दों से पीछे नहीं हटूंगा और अपने वादे को पूरा करूंगा. कल, मैंने सभी हितधारकों के साथ एक लंबी बैठक की. थोड़ा इंतजार करें, मैं संकट में किसानों की मदद करने के लिए एक बेहतरीन योजना लेकर जल्द ही आप सबके सामने आऊंगा. वे हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता हैं. मैं उनसे अनुरोध करता हूं कि वे झूठी बातों को न सुने.

आपकी पार्टी को किसानों और ग्रामीणों की पार्टी के रूप में देखा जा रहा है. आप शहरी मतदाताओं के लिए क्या?

हम पूरे कर्नाटक का विकास चाहते हैं. ग्रामीण और शहरी दोनों. किसानों के समर्थक हैं लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि हम शहरी विरोधी हैं. उपमुख्यमंत्री डॉ. जी परमेश्वर, जो बेंगलुरु विकास पोर्टफोलियो भी रखते हैं, बेंगलुरु को एक बेहतर और आजीविका शहर में बदलने पर काम कर रहे हैं. हम यातायात भीड़ को कम करना चाहते हैं. हम झीलों को फिर से जिंदा करना चाहते हैं. हम शहर को साफ रखना चाहते हैं, आईटी और स्टार्ट-अप सेक्टर की भी मदद करेंगे. बेंगलुरु मेट्रो (बीएमआरसीएल) का काम बहुत अच्छा चल रहा है. मैंने हाल ही में मेट्रो में सफर किया है, यह वास्तव में वर्ल्ड क्लास है. आने वाले दिनों में हम राज्य की राजधानी के लिए और भी कई बेहतर चीजें करेंगे.

(न्यूज18 के लिए डीपी सतीश की रिपोर्ट) 

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi