S M L

अल्पेश ठाकोर में बिहार आने का साहस नहीं: डिप्टी सीएम सुशील मोदी

बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने गुजरात में हिंदी भाषी लोगों पर हाल में हुए हमलों के मुद्दे को लेकर राज्य से कांग्रेस के विधायक अल्पेश ठाकोर पर निशाना साधा

Updated On: Nov 14, 2018 10:10 AM IST

Bhasha

0
अल्पेश ठाकोर में बिहार आने का साहस नहीं: डिप्टी सीएम सुशील मोदी

बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने गुजरात में हिंदी भाषी लोगों पर हाल में हुए हमलों के मुद्दे को लेकर राज्य से कांग्रेस के विधायक अल्पेश ठाकोर पर निशाना साधा और कहा कि देश के लोग जिस भी राज्य में चाहें उन्हें वहां काम करने का अधिकार है. सुशील कुमार मोदी ने कहा कि गुजरात में हिंदी भाषी लोगों पर हमलों के बाद ओबीसी नेता (ठाकोर) में बिहार का दौरा करने का साहस नहीं है.

सुशील कुमार मोदी पिछले महीने कुछ हिंदीभाषी मजदूरों पर कथित रूप से क्षत्रीय ठाकोर सेना के सदस्यों द्वारा हमले के बाद हिंदी भाषी मजदूरों के गुजरात से पलायन का उल्लेख कर रहे थे. क्षत्रीय ठाकोर सेना अल्पेश ठाकोर के नेतृत्व वाला एक संगठन है. वहीं ठाकोर ने सुशील कुमार मोदी पर यह कहते हुए पलटवार किया कि वह वोट प्राप्त करने के लिए गंदी राजनीति में लिप्त होकर समाज को बांटने का प्रयास कर रहे हैं.

ठाकोर राधनपुर सीट का प्रतिनिधित्व करते हैं और कांग्रेस ने उन्हें गत अगस्त में बिहार के लिए पार्टी मामलों का उप प्रभारी बनाया था. सुशील कुमार मोदी नर्मदा जिले के केवड़िया गांव में स्थित 'स्टैच्यू आफ यूनिटी' आये थे, जो सरदार वल्लभभाई पटेल को समर्पित है और जिसका अनावरण हाल में किया गया था. उन्होंने कहा कि ठाकोर का अपना छवि सुधारने के प्रयास व्यर्थ जाएंगे.

उन्होंने कहा, 'उनके लिए छवि सुधारने के प्रयास के लिए काफी देरी हो चुकी है. गुजरात में उन्होंने जिस तरह से हिंदी भाषियों से व्यवहार किया, उनमें बिहार आने का साहस नहीं बचा है. इस देश के लोगों को अपनी इच्छा के किसी भी राज्य में काम करने का अधिकार है. मेरा मानना है कि स्थानीय लोगों को नौकरियों में प्राथमिकता मिलनी चाहिए, अंतत: एक नागरिक देश में कहीं पर भी काम करने को स्वतंत्र है.'

सुशील कुमार मोदी ने कहा कि जैसे गुजराती समुदाय के लोग पूरे विश्व में फैले हैं, बिहार के लोग गुजरात, महाराष्ट्र और अन्य राज्यों में बसे हैं. सुशील कुमार मोदी के आरोप पर ठाकोर ने कहा कि गुजरात के अन्य राज्यों के मजदूर मेरे दुश्मन नहीं हैं, वे मेरे भाई हैं. मैं उनके अधिकारों के लिए लड़ रहा हूं. पर बीजेपी नेता मुझे उनके शत्रु के तौर पर पेश कर रहे हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi