S M L

यहूदियों की मदद के लिए लिखी गई आइंस्टीन की चिट्ठी होगी नीलाम

उन्होंने हिटलर के शासन में भागे यहूदी बुद्धिजीवियों की मदद के वास्ते कपड़ा निर्माता कंपनी के धनी निदेशक जोसेफ हाल्ले शैफेनर को धनराशि दान करने के लिए कहा था

Bhasha Updated On: Nov 19, 2017 05:01 PM IST

0
यहूदियों की मदद के लिए लिखी गई आइंस्टीन की चिट्ठी होगी नीलाम

जर्मनी के वैज्ञानिक अलबर्ट आइंस्टीन द्वारा लिखित और हस्ताक्षरित एक पत्र को अमेरिका में नीलामी के लिए रखा गया है और इसकी दस हजार डॉलर तक बोली लग सकती है.

इस पत्र में एक धनी व्यवसायी से जर्मनी में हिटलर के शासन में भागे यहूदी बुद्धिजीवियों की मदद के वास्ते अपनी धनराशि दान करने के लिए कहा गया था.

जर्मनी के तानाशाह एडोल्फ हिटलर के यहूदी विरोधी नियमों और सघन कानूनों के कारण हजारों की संख्या में यहूदी लोगों को अपनी नौकरियां छोड़नी पड़ी थीं और अपने देश से बाहर होना पड़ा था.

अंतरराष्ट्रीय समुदाय ने इन शिक्षित प्रवासियों को अपने देशों में नागरिक सेवा, विश्वविद्यालय और कानूनी पदों तथा वैज्ञानिक अनुसंधान क्षेत्रों में प्रशिक्षित किया. कई संगठन इन मूल्यवान नए नागरिकों के आगमन पर उनकी मदद के लिए आगे आए थे. सबसे महत्वपूर्ण यहूदी वैज्ञानिक आइंस्टीन ने इस तरह के संगठनों की तरफ से काम किया.

आरआर ऑक्शन के अनुसार आइंस्टीन ने तीन अप्रैल, 1951 को कपड़ा निर्माता कंपनी हार्ट, शैफ़ेनर एंड मार्क्स, के धनी निदेशक जोसेफ हाल्ले शैफेनर को पत्र लिखा जिसमें उन्होंने हिटलर के शासन में भागे यहूदी बुद्धिजीवियों की मदद के वास्ते अपनी धनराशि दान करने के लिए कहा था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
International Yoga Day 2018 पर सुनिए Natasha Noel की कविता, I Breathe

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi