S M L

महागठबंधन की खातिर मायावती के आगे झुकने को तैयार हैं अखिलेश!

सीट शेयरिंग को लेकर मायावती के सख्त तेवरों के बाद अखिलेश यादव ने दो कदम पीछे हटने की बात कहकर स्पष्ट रूप से कम सीटों पर चुनाव लड़ने के संकेत दिए हैं

Updated On: Sep 17, 2018 02:00 PM IST

FP Staff

0
महागठबंधन की खातिर मायावती के आगे झुकने को तैयार हैं अखिलेश!

सीटों के बंटवारे को लेकर बहुजन समाज पार्टी (बीएसपी) की अध्यक्ष मायावती के सख्त रूख के बाद महागठबंधन का पेंच फंसता दिखाई दे रहा है. इस पर अब समाजवादी पार्टी ने नरम रूख अपनाने के संकेत दिए हैं.

पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सोमवार को कहा कि महागठबंधन हो इसके लिए वो दो कदम पीछे हटने को भी तैयार हैं. उन्होंने कहा कि 2019 में बीजेपी को हराने के लिए यूपी में बहुत अच्छा गठबंधन तैयार होगा.

स्पष्ट है कि अखिलेश यादव ने दो कदम पीछे हटने की बात कहकर कम सीटों पर चुनाव लड़ने के संकेत दिए.

दरअसल अखिलेश का यह बयान मायावती के रविवार के उस बयान के बाद आया जिसमें उन्होंने कहा था कि उनकी पार्टी सम्मानजनक सीटें मिलने पर ही किसी दल के साथ गठबंधन करेगी. अगर ऐसा नहीं होता है तो वो 2019 में अकेले ही चुनाव मैदान में उतरेंगी.

मायावती ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा था कि 'लोकसभा चुनाव और उससे पहले कुछ राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव में विपक्षी दलों की यह कोशिश होगी कि बीजेपी को किसी भी कीमत पर सत्ता में आने से रोका जाए. इसके लिए गठबंधन करके चुनाव लड़ने की बात भी हो रही है.'

उन्होंने कहा, 'हमारी पार्टी गठबंधन के खिलाफ नहीं है, लेकिन इस बारे में पार्टी का शुरू से ही स्पष्ट रूख है. पार्टी किसी भी दल के साथ तभी कोई गठबंधन करेगी जब उसे सम्मानजनक सीटें मिलेंगी. वरना हमारी पार्टी अकेले ही चुनाव लड़ना बेहतर समझती है.'

अखिलेश से शिवपाल ने बनाई पार्टी

वहीं अखिलेश की बेरूखी से दुखी होकर पार्टी छोड़कर पिछले दिनों समाजवादी सेकुलर मोर्चा नाम से अलग पार्टी बनाने वाले शिवपाल सिंह यादव की पार्टी का झंडा पहली बार दिखा. सोमवार को अपने पैतृक गांव सैफई जाते हुए उनकी गाड़ी पर उनकी नई पार्टी का झंडा दिखा.

तीन रंगों वाले उनकी पार्टी के झंडे के बीच में शिवपाल की तस्वीर छपी हुई है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi