S M L

अखिलेश यादव बोले- पीएम मोदी ने किसानों का उपहास उड़ाने के लिए की रैली

अखिलेश यादव ने कहा कि प्रधानमंत्री की किसान कल्याण रैली दरअसल किसानों का ही उपहास है. मोदी लाख छिपाएं, लेकिन ये सच है कि किसान को अपनी फसल का लागत मूल्य भी नहीं मिल पा रहा है.

Updated On: Jul 21, 2018 08:44 PM IST

Bhasha

0
अखिलेश यादव बोले- पीएम मोदी ने किसानों का उपहास उड़ाने के लिए की रैली

समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शनिवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की किसान कल्याण रैली को किसानों का उपहास करार दिया है. उन्होंने कहा कि यह जनसभा करके झूठे वादे करने का नहीं, बल्कि यह बताने का वक्त है कि सरकार हाल में घोषित समर्थन मूल्य का फायदा किसानों को कब और कैसे दिलाएगी.

यादव ने कहा कि शाहजहांपुर में हुई प्रधानमंत्री की किसान कल्याण रैली दरअसल किसानों का ही उपहास है. मोदी लाख छिपाएं, लेकिन ये सच है कि किसान को अपनी फसल का लागत मूल्य भी नहीं मिल पा रहा है. खाद, ट्रैक्टर, कीटनाशक दवाइयों पर जीएसटी की मार पड़ रही है. कर्जमाफी में भी घोटाला हुआ है. कर्ज से परेशान लगभग 40 हजार किसान बीजेपी के राज में आत्महत्या कर चुके हैं.

उन्होंने कहा कि वक्त किसान कल्याण रैली करके झूठे वादे करने का नहीं है बल्कि ये बताने का है कि केन्द्र ने जो न्यूनतम समर्थन मूल्य घोषित किया है, उसे बीजेपी सरकार कब, कैसे और किसके माध्यम से देगी.

पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों की आय दोगुनी करने का वादा कब और कैसे पूरा होगा, यह आज तक प्रधानमंत्री ने नहीं बताया है. किसानों को उम्मीद थी कि उनकी समस्याओं का समाधान होगा, मगर आश्वासन पर आश्वासन और भाषण दर भाषण सुनकर उनकी सहनशक्ति जवाब दे चुकी है. उन्हें बस अब 2019 के लोकसभा चुनावों का इंतजार है.

यादव ने कहा कि बीजेपी ने किसान और गांव-खेती को अपनी प्राथमिकता में कभी नहीं रखा. किसान उसके लिए सिर्फ वोट बैंक है. गांवों के विकास में उसकी रूचि नही हैं. किसान और गांव की जगह बीजेपी की विशेष रूचि कॉरपोरेट घरानों में है इसीलिए बीजेपी सरकार के केन्द्र के पांच बजट और उत्तर प्रदेश के दो बजट में खेती के लिए विशेष सुविधाएं नहीं दी गईं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi