S M L

PM के 'महामिलावट' बयान पर अखिलेश का पलटवार, कहा- 'ढाई' लोगों को हम पर न करने दें शासन

अखिलेश यादव ने कहा कि केंद्र और उत्तर प्रदेश की बीजेपी सरकार जनता से किए गए वादे निभाने में बुरी तरह नाकाम रही है, इस बार लोकसभा चुनाव में जनता बीजेपी के खिलाफ विद्रोह करेगी

Updated On: Feb 09, 2019 12:19 PM IST

FP Staff

0
PM के 'महामिलावट' बयान पर अखिलेश का पलटवार, कहा- 'ढाई' लोगों को हम पर न करने दें शासन

समाजवादी पार्टी (एसपी) के प्रमुख अखिलेश यादव ने विपक्षी गठबंधन को 'महामिलावट' करार देने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान पर पलटवार करते हुए बीते शुक्रवार को कहा कि यह ऐसी मिलावट है कि कौन कहां मिट जाएगा, किसी को नहीं पता.

एनडीटीवी की खबर के अनुसार अखिलेश ने यहां प्रेस कांफ्रेंस में मोदी द्वारा बार बार विपक्षी गठबंधन को महामिलावट बताने संबंधी सवाल पर कहा- ऐसी महामिलावट है यह, कौन कहां मिट जाएगा किसी को नहीं पता. उन्होंने कहा कि केंद्र और उत्तर प्रदेश की बीजेपी सरकार जनता से किए गए वादे निभाने में बुरी तरह नाकाम रही है. इस बार लोकसभा चुनाव में जनता बीजेपी के खिलाफ विद्रोह करेगी.  पीएम की इस बाते ने अखिलेश यादव को नाराज कर दिया था, जो उत्तर प्रदेश के युद्ध के मैदान में दो मुख्य विपक्षी नेताओं में से एक हैं. साथ ही गठबंधन के लिए एक प्रमुख व्यक्ति भी हैं.

अखिलेश ने बीजेपी के वादों का शिकार न होने की कसम खाई

अखिलेश यादव ने राज्य में बीजेपी के नेतृत्व को स्पष्ट करते हुए लोगों से कहा कि वह ढाई लोगों को हम पर शासन न करने दें. बता दें कि ढाई आदमी अमेरिका का एक लोकप्रिय टीवी शो था जिसमें दो पुरुष और एक किशोर था. हैशटैग #NeverAgain के साथ ट्वीट करते हुए अखिलेश यादव ने लोगों से बीजेपी के वादों और उपायों का शिकार न होने की कसम खाई. बीजेपी सरकार के खिलाफ अपने मोर्चे में, समाजवादी पार्टी के प्रमुख ने विमुद्रीकरण, किसानों के संकट और मॉब लिंचिंग की समस्या को भगवा पार्टी को वोट न देने के कारण बताया.

इसके तुरंत बाद, उनकी पार्टी ने उसी हैशटैग के साथ ट्वीट्स की एक श्रृंखला चलाई जो कि अखिलेश यादव ने भारतीय जनता पार्टी को संदेश देने के लिए किया. दरअसल उत्तर प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों में से बीजेपी को पछाड़ने के लिए समाजवादी पार्टी और मायावती की बहुजन समाज पार्टी ने हाथ मिलाया है. उनके गठबंधन को राज्य में एक चुनौती के रूप में देखा जाता है जिसे दिल्ली पर शासन करने की उम्मीद करने वाले किसी भी दल के लिए जीतने की जरूरत है.

एसपी अध्यक्ष ने कहा कि आज किसान सबसे ज्यादा संकट में हैं

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीजेपी के खिलाफ महागठबंधन बनाने की चल रही कोशिशों पर तंज कसते हुए बीते शुक्रवार को छत्तीसगढ़ में जनता से इस महामिलावट के प्रति सावधान रहने के लिए कहा था. उन्होंने कहा था कि अगर उनकी पार्टी वापस सत्ता में नहीं आ पाती है तो मतदाताओं को इस महामिलावट के प्रति सावधान रहना होगा. प्रधानमंत्री ने लोकसभा में भी महामिलावट वाली टिप्पणी की थी. वहीं इस बारे में एसपी अध्यक्ष ने कहा कि आज किसान सबसे ज्यादा संकट में हैं. सरकार ने न तो उनका कर्ज माफ किया है और न ही उनसे किया कोई दूसरा वादा पूरा किया है.

किसानों पर उत्पीड़नात्मक धाराओं में मुकदमे दर्ज किए गए हैं

उन्होंने कहा कि इतना ही नहीं, आलू खरीदने का बीजेपी का वादा पूरा न होने पर अपनी उपज को विधानभवन के सामने फेंकने वाले किसानों पर अंग्रेजों के जमाने की उत्पीड़नात्मक धाराओं में मुकदमे दर्ज किए गए हैं. उत्तर प्रदेश के अपराधियों द्वारा अपने गले में गिरफ्तारी की ख्वाहिश में तख्ती लटकाए जाने के बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के दावे का जवाब देते हुए अखिलेश ने कहा कि अगर उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के मंत्रिमंडल के हर मंत्री के गले पर तख्ती लटकाकर उस पर धाराएं लिखी जाएं तो सोचिए कैसी तस्वीर सामने आएगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi