S M L

अगस्ता वेस्टलैंड मामला: सोनिया गांधी का नाम लेने पर भड़के चिदंबरम, कहा- कंगारू कोर्ट में भी होती है सुनवाई

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने तंज कसते हुए कहा, 'यदि सरकार, प्रवर्तन निदेशालय और मीडिया की चली, तो इस देश में केस की सुनवाई टीवी चैनलों पर होगी'

Updated On: Dec 30, 2018 01:38 PM IST

FP Staff

0
अगस्ता वेस्टलैंड मामला: सोनिया गांधी का नाम लेने पर भड़के चिदंबरम, कहा- कंगारू कोर्ट में भी होती है सुनवाई

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी.चिदंबरम ने अगस्ता वेस्टलैंड मामले में बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल के यूपीए की चेयरपर्सन सोनिया गांधी का नाम लेने पर सवाल उठाए हैं. रविवार को चिदंबरम ने इसपर मीडिया की भी भूमिका की आलोचना करते हुए ट्वीट किया, 'कंगारू कोर्ट में भी सुनवाई होती है. मगर हमारे नए 'बेहतर' व्यवस्था में इससे भी आगे बढ़कर टीवी चैनलों पर न्याय हो रहा है.'

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने तंज कसते हुए कहा, 'यदि सरकार, प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और मीडिया की चली, तो इस देश में केस की सुनवाई टीवी चैनलों पर होगी.'

उन्होंने आगे कहा, 'क्रिमिनल प्रोसीजर कोड (सीआरपीसी) और एविडेंस एक्ट लागू नहीं होंगे. जो प्रवर्तन निदेशालय कहेगा वो मौखिक सबूत होंगे. ईडी कागज का कोई भी टुकड़ा पेश करेगा तो वो दस्तावेजी सबूत हो जाएंगे. और जो टीवी चैनल दिखाएंगे वो निर्णय हो जाएगा.'

New Delhi: Agusta Westland scam accused middleman Michel Christian at CBI headquarters in New Delhi, on early Wednesday, Dec. 5, 2018. (PTI Photo/Ravi Choudhary)(PTI12_5_2018_000001B)

अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर सौदे में बिचौलिए की भूमिका अदा करने वाले क्रिश्चियन मिशेल को सीबीआई दुबई से प्रत्यर्पण कर भारत लेकर आई थी

कोर्ट को बताया था मिशेल के सोनिया गांधी का नाम लेने की बात 

दरअसल अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर सौदा मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने शनिवार को पटियाला हाउस कोर्ट को बताया था कि बिचौलिए क्रिश्चियन मिशेल ने सोनिया गांधी का नाम लिया है. ईडी ने हालांकि कहा कि अभी यह साफ नहीं है कि मिशेल ने सोनिया गांधी का नाम किस संदर्भ में लिया.

ईडी ने कोर्ट को कहा कि मिशेल ने 'इटली की महिला के पुत्र' के बारे में बताया है. साथ ही यह भी बताया है कि कैसे 'वो देश का अगला पीएम बनने जा रहा है.'

कोर्ट को ईडी की दी गई इस जानकारी के बाद कांग्रेस ने पलटवार करते हुए कहा कि 'मिशेल पर एक परिवार का नाम लेने का दबाव बनाया गया है. आखिर चौकीदार सरकारी एजेंसियों पर एक परिवार का नाम लेने के लिए दबाव क्यों बना रही है? बीजेपी के स्क्रिप्ट राइटर ओवरटाइम काम कर रहे हैं.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi