S M L

सिद्धारमैया ने मारा यू-टर्न, कहा- BJP, RSS को नहीं कहा था आतंकी संगठन

मैसूर में एक कार्यक्रम के दौरान सीएम ने सफाई देते हुए कहा 'उनका बयान हिंदुत्व आतंकवाद को लेकर था न कि बीजेपी और संघ को लेकर'

Updated On: Jan 12, 2018 11:47 AM IST

FP Staff

0
सिद्धारमैया ने मारा यू-टर्न, कहा- BJP, RSS को नहीं कहा था आतंकी संगठन

कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया अपने उस बयान से पलट गए हैं, जिसमें उन्होंने बीजेपी और आरएसएस को आतंकी संगठन बताया था. मैसूर में एक कार्यक्रम के दौरान उन्होंने सफाई दी कि उनका बयान हिंदुत्व आतंकवाद को लेकर था न कि बीजेपी या संघ को लेकर.

सिद्धारमैया ने कहा, 'मैंने कहा था कि बीजेपी और आरएसएस सियासी फायदे के लिए हिंदुत्व आतंकवाद फैला रहे हैं. मेरे विचार में जो भी नफरत फैलाता है या हिंसा भड़काता है, वह आतंकी है.

सिद्धारमैया के बयान पर बुधवार को काफी हंगामा बरपा. बीजेपी ने कांग्रेस पर पलटवार करते हुए उसे आतंकियों, उग्रवादियों को पनाह देने वाली पार्टी करार दिया. बीजेपी के फायरब्रांड नेता और बीएस येदुरप्पा के करीबी शोभा करंदलाजे ने कांग्रेस को घेरने का मन बना लिया है.

सिद्धारमैया करें हमें गिरफ्तार: बीजेपी कार्यकर्ता

करंदलाजे ने कहा, 'कांग्रेस के आतंकियों से तार जुड़े हैं, यह पूरा देश जानता है. इन्होंने खालिस्तान बनाया और भिंडरवाले को खड़ा किया जिसने पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या की. इसी पार्टी ने एलटीटीई बनवाई. एलटीटीई ने राजीव गांधी को मारा. इतना कुछ के बावजूद कांग्रेस आतंकवाद को लेकर नरम रुख अपनाती है.'

पूर्व में कुछ कांग्रेस नेता शोभा करंदलाजे को आतंकी कह चुके हैं. ये नेता करंदलाजे पर हिंदुत्व के नाम पर हिंसा भड़काने का आरोप लगाते रहे हैं.

दूसरी ओर इस मामले में सियासी पारा चढ़ता देख कई बीजेपी और आरएसएस कार्यकर्ताओं ने सिद्धारमैया सरकार को उन्हें गिरफ्तार करने की चुनौती दी है.

बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष एस प्रकाश ने न्यूज़18 से कहा, 'अगर हम आतंकी हैं, तो सरकार हमें तुरंत गिरफ्तार करे. गिरफ्तार न करने का अर्थ होगा सरकार गलत है और आतंकियों की मदद कर रही है. सिर्फ कोई बेअकल आदमी ही बीजेपी, आरएसएस को आतंकी संगठन कह सकता है. हम विरोध प्रदर्शन जारी रखेंगे.'

बीजेपी के विरोधी रुख को देखते हुए कांग्रेस ने अपनी रणनीति में बदलाव किया है. कांग्रेस चाहती है कि लोगों का ध्यान आतंकी बयान से हटाकर बीजेपी की पूर्व सरकारों के घोटालों पर फोकस किया जाए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता
Firstpost Hindi