S M L

राहुल गांधी के बाद स्मृति ईरानी ने बताया अपना गोत्र, सिंदूर लगाने की बताई वजह

दरअसल, एक ट्विटर यूजर ने ईरानी से उनका, उनके पति और बच्चों का गोत्र पूछा था. साथ ही उसने यह भी पूछा था कि आप सिंदूर धार्मिकता के कारण लगाती हैं या यह स्टाइल स्टेटमेंट है?

Updated On: Nov 28, 2018 03:27 PM IST

FP Staff

0
राहुल गांधी के बाद स्मृति ईरानी ने बताया अपना गोत्र, सिंदूर लगाने की बताई वजह

इस समय भारत की राजनीति में गोत्र बड़ा मुद्दा बना हुआ है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बाद अब केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने अपना गोत्र सार्वजनिक किया है. दरअसल, एक ट्विटर यूजर ने ईरानी से उनका, उनके पति और बच्चों का गोत्र पूछा था. साथ ही उस यूजर ने यह भी पूछा था कि आप सिंदूर धार्मिकता के कारण लगाती हैं या यह स्टाइल स्टेटमेंट है?

इन सभी सवालों का स्मृति ईरानी ने जवाब दिया है. उन्होंने कहा कि मेरा गोत्र कौशल है. यह मेरे पिता का गोत्र है. ईरानी ने कहा कि मेरे पति और बच्चे पारसी धर्म के हैं, इसलिए उनका गोत्र नहीं है. साथ ही उन्होंने सिंदूर लगाने के बारे में जवाब देते हुए कहा कि मैं हिंदू धर्म में विश्‍वास करती हूं और इसलिए सिंदूर लगाती हूं.

इसके बाद एक अन्य ट्वीट में उन्‍होंने स्‍पष्‍टीकरण देकर कहा कि मेरा धर्म हिंदुस्तान है, मेरा कर्म हिंदुस्तान है, मेरी आस्था हिंदुस्तान है, मेरा विश्वास हिंदुस्तान है. ईरानी ने कहा कि सार्वजनिक जीवन में होने के नाते ये मेरा दायित्व है कि मैं सवालों के जवाब दूं.

जब हैदराबाद यूनिवर्सिटी के छात्र रोहित वेमुला की मौत हो गई थी, तब ईरानी एचआरडी मंत्री थीं. उनपर तमाम आरोप लग रहे थे. तब उन्होंने संसद में जवाब देते हुए कहा था कि मेरा नाम स्मृति ईरानी है और मैं आपको चुनौती देती हूं कि आप मेरी जाति बताइए.

पुष्कर में राहुल ने बताया था अपना गोत्र

सोमवार को राजस्थान के अजमेर में चुनाव प्रचार के लिए पहुंचे राहुल गांधी ने पुष्कर स्थित ब्रह्मा मंदिर और सरोवर घाट पर पूजा की थी. घाट पर पूजा करवाने वाले एक पुजारी ने दावा किया कि राहुल का गोत्र दत्तात्रेय है और वह कश्मीर ब्राह्मण हैं. पुजारी दीनानाथ कौल ने संवाददाताओं को बताया कि उनके पास इस परिवार का पूरा रिकॉर्ड पोथी में दर्ज है. इसमें इस परिवार की वंशावली है. पुजारी के अनुसार, उनके पूर्वजों ने ही मोती लाल नेहरू, जवाहर लाल नेहरू व इस परिवार के अन्य सदस्यों को यहां पूजा करवाई थी.

पुजारी ने कहा, 'इनकी गोत्र दत्तात्रेय हैं और वह कश्मीरी ब्राह्मण हैं. मोती लाल नेहरू, जवाहर लाल नेहरू, इंदिरा गांधी, संजय गांधी, मेनका गांधी व सोनिया गांधी ने घाट पर आकर पूजा की, इसका रिकॉर्ड (पोथी) हमारे पास है. पुजारी के अनुसार उन्होंने पूजा करने आए राहुल गांधी से उनका नाम व गोत्र पूछा तो उन्होंने दत्तात्रेय गोत्र बताया. दत्तात्रेय कौल होते हैं जो कश्मीरी ब्राह्मण होते हैं.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi