S M L

मंत्री बनाने के बाद CM कमलनाथ ने बांटे विभाग, जानिए किसको क्या मिला?

सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याणविभाग, अनुसूचित जाति कल्याण विभाग लखन घनघोरिया और श्रम विभाग महेंद्र सिंह सिसोदिया दखेंगे

Updated On: Dec 29, 2018 10:44 AM IST

FP Staff

0
मंत्री बनाने के बाद CM कमलनाथ ने बांटे विभाग, जानिए किसको क्या मिला?

मध्यप्रदेश में मंत्रीमंडल के गठन के साथ-साथ अब विभागों के भी बंटवारे हो गए हैं. मुख्यमंत्री कमलनाथ ने अपने पास 10 विभाग रखे हैं जिसमें रोजगार और कौशल विभाग प्रमुख है. मुख्यमंत्री ने अपने पास औद्योगिक नीति एवं निवेश प्रोत्साहन विभाग, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग, लोक सेवा प्रबंधन विभाग, प्रवासी भारतीय विभाग, तकनीकी शिक्षा, कौशल विकास एवं रोजगार विभाग और अन्य विभाग जो किसी मंत्री को आवंटित नहीं हैं, रखे हैं. साथ ही मुख्यमंत्री के पास अभी वो विभाग भी हैं जो अभी तक किसी को आवंटित नहीं किए गए हैं.

तरुण भनोट को वित्त विभाग तथा योजना विभाग सौंपा गया

सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याणविभाग, अनुसूचित जाति कल्याण विभाग लखन घनघोरिया और श्रम विभाग महेंद्र सिंह सिसोदिया दखेंगे. पी सी शर्मा को विधि एवं विधायी कार्य विभाग के साथ ही मुख्यमंत्री से संबद्ध किया गया है. प्रद्युम्न सिंह तोमर को खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग तथा सचिन यादव को किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग, उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण विभाग दिया गया है. सुरेंद्र सिंह हनी बघेल को नर्मदा घाटी विकास विभाग तथा पर्यटन विभाग और तरुण भनोट को वित्त विभाग तथा योजना आर्थिक एवं सांख्यिकी विभाग सौंपा गया है.

बाला बच्चन गृह विभाग के अलावा जेल विभाग देखेंगे

डॉ विजयलक्ष्मी साधौ को संस्कृति, चिकित्सा शिक्षा और आयुष विभाग दिया गया है. सज्जन सिंह वर्मा लोक निर्माण विभाग और पयार्वरण विभाग संभालेंगे. हुकुम सिंह कराड़ा जल संसाधन विभाग और डॉ गोविंद सिंह सहकारिता विभाग तथा संसदीय कार्य विभाग देखेंगे. बाला बच्चन गृह विभाग के अलावा जेल और मुख्यमंत्री से संबद्ध विभाग देखेंगे. आरिफ अकील भोपाल गैस त्रासदी राहत एवं पुनवार्स विभाग, पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण विभाग, सूक्ष्म लघु और मध्यम उद्यम विभाग देखेंगे. बृजेंद्र सिंह राठौर वाणिज्यिक कर विभाग, प्रदीप जायसवाल खनिज साधन विभाग और लाखन सिंह यादव को पशुपालन विभाग, मछुआ कल्याण तथा मत्स्य विकास विभाग दिया गया है. तुलसी सिलावट लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग देखेंगे. गोविंद सिंह राजपूत राजस्व और परिवहन विभाग देखेंगे.

कांग्रेस ने विधानसभा चुनावों में 114 सीटें पर जीत हासिल की थी

इमरती देवी महिला एवं बाल विकास विभाग और ओंकार सिंह मरकाम जनजातीय कार्य विभाग, विमुक्त घुमक्कड़ एवं अर्धघुमक्कड़ और जनजाति कल्याण विभाग दिया गया है. स्कूल शिक्षा विभाग का नेतृत्व प्रभुराम चौधरी, ऊर्जा विभाग प्रियव्रत सिंह तथा लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग सुखदेव पांसे संभालेंगे. आपको बता दें कि कांग्रेस ने विधानसभा चुनावों में 114 सीटें पर जीत हासिल की थी, जो कि बहुमत से 2 कम थी. ऐसी स्थिति में एसपी-बीएसपी ने कांग्रेस को समर्थन दिया था लेकिन, मंत्रीमंडल में दोनों ही पार्टियों के विधायकों को जगह नहीं दी गई.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi