S M L

सेक्स वीडियो मामले में घिरे आप के पूर्व मंत्री बीजेपी के साथ !

संदीप कुमार की सीडी पर बीजेपी ने बहुत बवाल मचाया था

Amitesh Amitesh Updated On: Apr 17, 2017 06:31 PM IST

0
सेक्स वीडियो मामले में घिरे आप के पूर्व मंत्री बीजेपी के साथ !

सियासत और सियासतदानों की रंगीन मिजाजी की कहानी अक्सर सत्ता के गलियारों से लेकर सत्ता के सिंहासन तक जाने वाली संकरी गलियों तक मिल जाती हैं. कानाफूसी, खुशफुसाहट और व्यंग्य से लबरेज इस तरह की कहानी का कभी वीडियो वायरल हो जाता है तो कभी कुछ स्मार्ट कंबल ओढ़कर घी पी सकने में कामयाब भी हो जाते हैं.

सिर्फ दिल्ली में ही नहीं हुए हैं ऐसे केस

Bhanwari-Devi

ऐसा बिल्कुल नहीं कि इस तरह के कारनामे केवल दिल्ली में ही होते हैं. दिल्ली से लेकर राजस्थान तक, राजस्थान से लेकर कर्नाटक तक हर जगह इस तरह के वाकये देखने को मिल जाते हैं. कहीं भंवरी देवी प्रकरण किसी सफेदपोश को बेनकाब करता है तो कहीं सफेद कपड़ों में पॉर्न वीडियो देखते कुछ लोग विधानसभा के भीतर दिख जाते हैं.

गंगा से लेकर गोदावरी तक नैतिकता की दुहाई दी जाती है, लेकिन, इस साफ  पानी में किस तरह गंदगी घुल चुकी है, इसका नजारा कभी-कभी इन महानुभावों के काले कारनामे देखकर पता चल जाता है.

लेकिन, बाद जब दिल्ली की हो तो इसको लेकर बहस कहीं ज्यादा ही तेज हो जाती है. क्योंकि यहां सत्ता के शीर्ष लोग बैठे रहते हैं जहां कि कोई एक छोटी घटना किसी बड़े रोल में तब्दील हो जाती है.

अपनी धुन में मग्न कुछ लोगों को लगता है कि ये दिल्ली तो दिलवालों की है जिन्हें इन सभी बातों से कोई फर्क नहीं पड़ता. वो सब भूल जाते हैं. दिल्ली वाले तो इतने मासूम हैं कि उन्हें कुछ याद ही नहीं रहता.

अगर ऐसा नहीं रहता तो दिल्ली के दिल कहे जाने वाले कनाट प्लेस के राजीव चौक मेट्रो स्टेशन पर अचानक पार्न वीडियो दिन दहाड़े कैसे चल जाता? इस पर बहस होती रहेगी कि इसके लिए जिम्मेदार कौन है. लेकिन, इस वीडियो के चलते ही व्यंग्य वाण की वर्षा शुरू हो गई.

अचानक राजीव चौक मेट्रो स्टेशन के नाम बदलने की तेज मांग शुरू हो गई. ये मांग सोशल मीडिया पर खूब चलती रही. राजीव चौक का नाम बदलकर संदीप चौक करने को लेकर जोरदार बहस भी हुई. लेकिन, सोशल मीडिया पर चल रही इस चुटीली बहस केंद्र में संदीप के आने के बाद चटखारे लगने तेज हो गए.

दिल्ली में एमसीडी का चुनाव हो रहा है. बीजेपी और आप में कटाक्ष जमकर जारी है. संदीप के नाम पर सब के सब चटखारे ले रहे हैं. जी हां संदीप कुमार के बारे में सुनकर आपको शायद या रहा होगा कि ये जनाब हैं कौन.

खूब मचा था संदीप कुमार पर बवाल

sandeep

ये कौन से महानुभाव हैं जिनके नाम पर राजीव चौक मेट्रो स्टेशन का नाम ही बदलने की मांग सोशल मीडिया के जरिए जोर पकड़ रही है. तो आप भी इनको पहचान लीजिए. ये हैं दिल्ली सरकार के पूर्व महिला और बाल कल्याण मंत्री संदीप कुमार. जनाब का कुछ महीने पहले ही दिल्ली में एक महिला के साथ अश्लील वीडियो सामने आ गया था. तो बस केजरीवाल की पार्टी और सरकार दोनों बैकफुट पर आ गए थे.

बीजेपी लगातार हमले कर रही थी. नैतिकता का पाठ इस कदर पढ़ाने लगी कि मंत्री पद से संदीप को जाना पड़ा. लेकिन, सियासत के इस निराले खेल में लगता है कि वक्त के साथ-साथ नैतिकता के नयन-नक्श पर भी धूल पड़ जाती है.

तभी तो एमसीडी चुनाव में अब संदीप कुमार बीजेपी के पक्ष में प्रचार करते नजर आ गए. संदीप के सामने अब न कोई अड़चन है न ही किसी तरह की कोई रोक. बस आप के खिलाफ अभियान चला रहे संदीप अब बीजेपी के उम्मीदवार के पक्ष में प्रचार करने लगे हैं.

नरेला में बीजेपी की उम्मीदवार सावित्री खत्री के समर्थन में संदीप ने प्रचार किया तो सुगबुगाहट फिर तेज हो गई. कुछ लोग फिर से वही बात करने लगे सेक्स, वीडियो, मंत्री , आरोप, नैतिकता, आचरण आदि-आदि. लेकिन, शायद इन घिसी पिटी बातों से किसी को कोई परवाह नहीं. न ही संदीप को न ही  बीजेपी के नेताओं को. वरना एमसीडी चुनाव में बीजेपी के लिए बेपरवाह संदीप इइस तरह धड़ल्ले से कैसे प्रचार करते.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Social Media Star में इस बार Rajkumar Rao और Bhuvan Bam

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi