S M L

मतदाता पहचान पत्र से जुड़े 32 करोड़ आधार नंबर : CEC

रावत ने कहा, ‘हमने 32 करोड़ आधार नम्बर को केवल तीन महीने में जोड़ने का काम किया

Updated On: Mar 10, 2018 08:03 PM IST

Bhasha

0
मतदाता पहचान पत्र से जुड़े 32 करोड़ आधार नंबर : CEC

मुख्य चुनाव आयुक्त ओ. पी. रावत ने शनिवार को बेंगलुरू में कहा कि 32 करोड़ आधार संख्याओं को मतदाता पहचानपत्रों से जोड़ दिया गया है.

रावत ने एक एनजीओ ‘एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स’ (एडीआर) के 14 वें राष्ट्रीय सम्मेलन के इतर संवाददाताओं से कहा, ‘अभी तक 32 करोड़ आधार नंबर को मतदाता पहचान पत्रों से जोड़ दिया गया है. सुप्रीम कोर्ट से मंजूरी मिलने के बाद और 54.5 करोड़ आधार नंबर को मतदाता पहचानपत्र से जोड़ दिया जाएगा.’

यह पूछे जाने पर कि और 54.5 करोड़ आधार नम्बर को जोड़ने में कितना समय लगेगा, रावत ने कहा, ‘हमने 32 करोड़ आधार नम्बर को केवल तीन महीने में जोड़ने का काम किया.’

कर्नाटक स्थित मैथ्यू थॉमस ने आधार कानून की संवैधानिक वैधता को चुनौती देते हुए गत नवंबर में सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दायर की थी और दावा किया था कि यह निजता के अधिकार का उल्लंघन है. साथ ही बायोमेट्रिक प्रणाली सही तरीके से काम नहीं कर रही है.

ईवीएम संबंधि शिकायतों पर गंभीरता से विचार करेगा आयोग 

ईवीएम से छेड़छाड़ के आरोपों को लेकर एक सवाल पर रावत ने कहा कि आयोग विश्वसनीय शिकायतों पर गंभीरता से विचार करेगा और उसका समाधान करेगा.

मतों की गिनती के लिए टोटलाइजर मशीनों के इस्तेमाल पर रावत ने कहा, ‘हम यह नहीं कर सकते क्योंकि जब तक नियमों में संशोधन नहीं होता ऐसा नहीं हो सकता. सुप्रीम कोर्ट पहले ही मामले की सुनवाई कर रहा है.’

रावत ने उनके हवाले से आई इन खबरों को खारिज किया कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव की घोषणा 15 अप्रैल के आसपास की जाएगी. रावत ने कहा कि वह उचित समय पर किया जाएगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता
Firstpost Hindi