Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

टू जी फैसलाः स्वामी ने कहा निराश होने की जरूत नहीं, सरकार HC में करे अपील

सुब्रमण्यम स्वामी उन याचिकाकर्ताओं में शामिल हैं जिनकी याचिका पर टू जी मामले में सीबीआई जांच के आदेश दिए गए थे

Bhasha Updated On: Dec 21, 2017 04:47 PM IST

0
टू जी फैसलाः स्वामी ने कहा निराश होने की जरूत नहीं, सरकार HC में करे अपील

बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि टू जी मामले में आरोपियों को बरी किए जाने के फैसले के खिलाफ सरकार को तुरंत दिल्ली हाईकोर्ट में अपील करना चाहिए.

उन्होंने कहा कि इस फैसले से निराश होने की जरूरत नहीं है. हालांकि ये दिखाता है कि भ्रष्टाचार से लड़ने में सरकार के कानूनविद्, अधिकारी कितने अगंभीर थे. पीएम मोदी को इस प्रकरण से सीख लेना चाहिए.

पूरे मामले पर स्वामी ने नई दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अपना पक्ष रखा. उन्होंने कहा कि शुरूआती दौर में जज ने कहा था इस मामले में आरोपियों के खिलाफ सुनवाई के लिए प्रयाप्त सबूत हैं. लेकिन वो धीरे- धीरे कमजोर पड़ता गया.

स्वामी के मुताबिक इसे पटरी से उतार दिया गया है लेकिन इसे फिर से ट्रैक पर वापस रखा जा सकता है. हमारे पास ईमानदार कानून अधिकारी और वकील हैं जो मंत्रियों की 'चमचागिरी' नहीं करते.

जयललिता केस की दिलाई याद 

सुब्रमण्यम स्वामी उन याचिकाकर्ताओं में शामिल हैं जिनकी याचिका पर टू जी मामले में सीबीआई जांच के आदेश दिए गए थे.

पूर्व दूरसंचार मंत्री और द्रमुक नेता ए. राजा, उनकी पार्टी की नेता और राज्यसभा सदस्य कनिमोड़ी को टू जी स्पेक्ट्रम आवंटन मामला घोटाले में सीबीआई की विशेष अदालत ने गुरूवार को बरी कर दिया.

बाद में स्वामी ने ट्वीट कर तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री जे. जयलिलता के आय से अधिक मामले का हवाला दिया जिसमें जयललिता और उनकी निकट सहयोगी शशिकला को कर्नाटक हाईकोर्ट ने बरी कर दिया था. बाद में सुप्रीम कोर्ट ने उस फैसले को पलट दिया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
AUTO EXPO 2018: MARUTI SUZUKI की नई SWIFT का इंतजार हुआ खत्म

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi