S M L

आखिर क्यों स्मृति ईरानी को लग रहा है कि साल 2019 नहीं है आसान?

उन्होंने कहा 'मैं नहीं जानती कि 2021 में मेरे होने की वैज्ञानिक संभावनाएं क्या हैं, इसके बावजूद मैं पूरे सम्मान और विनम्रता से उनके आमंत्रण को स्वीकार करती हूं'

Updated On: Jan 06, 2019 02:50 PM IST

Bhasha

0
आखिर क्यों स्मृति ईरानी को लग रहा है कि साल 2019 नहीं है आसान?

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने शनिवार को भारतीय महिला विज्ञान कांग्रेस में एक सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि साल 2019 कोई आसान साल नहीं होगा. इसी के साथ उन्होंने कहा कि वह इस बात को लेकर आश्वस्त नहीं हैं कि 2021 में वह भारतीय महिला विज्ञान कांग्रेस के उद्घाटन में हिस्सा ले पाएंगी.

भारतीय महिला विज्ञान कांग्रेस 2021 के उद्घाटन कार्यक्रम के लिए स्मृति ईरानी को आमंत्रित किया गया है. उन्होंने कहा कि 2020-21 के लिए भारतीय महिला विज्ञान कांग्रेस की नव निर्वाचित अध्यक्ष विजय लक्ष्मी सक्सेना ने 2021 के सत्र के लिए उन्हें आमंत्रित किया है.

उन्होंने कहा 'मैं नहीं जानती कि 2021 में मेरे होने की वैज्ञानिक संभावनाएं क्या हैं, इसके बावजूद मैं पूरे सम्मान और विनम्रता से उनके आमंत्रण को स्वीकार करती हूं.' विपक्षी दलों की गठबंधन की कोशिशों के बावजूद बीजेपी नीत केंद्र सरकार इस साल अप्रैल-मई में प्रस्तावित लोकसभा चुनाव में दूसरे कार्यकाल को लेकर आशान्वित है.

साल 2014 में अमेठी से हार का सामना करना पड़ा था स्मृति को

साल 2014 में स्मृति ईरानी ने अमेठी से राहुल गांधी के खिलाफ लोकसभा चुनाव लड़ा था. हालांकि इसमें उन्हें हार का सामना करना पड़ा था. ईरानी ने कहा 'मेरी 15 वर्षीय बेटी अपने 10वीं के बोर्ड और मेरा बेटा जो 12वीं में है अपने बोर्ड की तैयारी कर रहा है. मेरा मतलब है कि 2019 हम में से किसी के लिए भी आसान नहीं है.'

गौरतलब है अब आगामी लोकसभा चुनाव में ज्यादा समय शेष नहीं है. ऐसे में तमाम राजनीतिक पार्टियां चुनावों को लेकर तैयारियों में जुट गई हैं. राजनीतिक विशेषज्ञों की माने तो इस बार बीजेपी के लिए 2019 में चुनाव जीतना साल 2014 की तरह आसान नहीं होगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi