S M L

राजस्थान में तीसरे मोर्चे से भयभीत हैं कांग्रेस और बीजेपी : बेनीवाल

बेनीवाल ने कहा कि कांग्रेस और बीजेपी दोनों ही पार्टियों से जनता परेशान है इसलिए प्रदेश में एक मजबूत तीसरे विकल्प की आवश्यकता है

Updated On: Nov 11, 2018 06:48 PM IST

FP Staff

0
राजस्थान में तीसरे मोर्चे से भयभीत हैं कांग्रेस और बीजेपी : बेनीवाल

जाट नेता और निर्दलीय विधायक हनुमान बेनीवाल ने राजस्थान में तीसरे मोर्चे का नेतृत्व करने का ऐलान कर दिया है. बेनीवाल ने रविवार को कहा कि उनकी राजनीतिक पार्टी, राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी सूबे में सभी 200 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी और प्रदेश में तीसरे मार्चे का नेतृत्व करेगी .

बेनीवाल ने कहा कि प्रदेश में इस बार उभरने वाले तीसरे मोर्चे में समान विचारधारा वाली अन्य पार्टियों को शामिल करने के लिए बातचीत अग्रिम स्तर पर जारी है. हम प्रदेश की सभी 200 विधानसभा सीटों पर चुनाव लडे़ेंगे और चुनावों के परिणाम पिछले परिणामों से भिन्न होगें. विधानसभा चुनाव परिणामों में तीसरे मोर्चे की महत्वपूर्ण भूमिका होगी.

तीसरा मोर्चा मजबूत मोर्चा होगा इसलिए बीजेपी और कांग्रेस दोनो भयभीत हैं

उन्होंने तीसरे मोर्चे के साथ गठबंधन के लिए बहुजन समाज पार्टी के आला नेताओं, पूर्व बीजेपी विधायकों और भारत वाहिनी पार्टी के संस्थापक घनश्याम तिवाड़ी सहित अन्य नेताओं के साथ चर्चा की है और चर्चा के सकारात्मक परिणाम दिखाई दे रहे है.

बेनीवाल ने कहा कि तीसरा मोर्चा मजबूत मोर्चा होगा इसलिए बीजेपी और कांग्रेस दोनो भयभीत और चिंतित हैं क्योंकि दोनों ही पार्टियों ने सभी मुद्दों पर आमजनता को धोखा दिया है और जनता दोनों दलों से परेशान है . इसलिए प्रदेश में एक मजबूत तीसरे विकल्प की आवश्यकता है.

नागौर के खींवसर विधानसभा क्षेत्र से निर्दलीय विधायक हनुमान बेनीवाल ने पीटीआई—भाषा को बताया, 'मैं जमीनी स्तर पर काम कर रहा हूं जिसके सकारात्मक परिणाम मिले है. भाजपा और कांग्रेस भ्रष्ट पार्टियां है और अब लोग विकल्प तलाश रहे है और इस बार मतदाताओं को विकल्प मिलेगा.' उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी कांग्रेस और भाजपा की सूची जारी होने के बाद आगामी एक दो दिनों में उम्मीदवारों की सूची जारी करेगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi