S M L

RSS के कार्यक्रम में प्रणब दा: तस्वीरें याद रहती हैं....

फ़ोटो | FP Staff | Jun 08, 2018 12:24 PM IST
X
1/ 12
पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने गुरुवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक के कार्यक्रम में हिस्सा लिया उनका आरएसएस में जाने का निमंत्रण स्वीकार करना बहुचर्चित रहा. (फोटो-पीटीआई)

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने गुरुवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक के कार्यक्रम में हिस्सा लिया उनका आरएसएस में जाने का निमंत्रण स्वीकार करना बहुचर्चित रहा. (फोटो-पीटीआई)

X
2/ 12
प्रणब मुखर्जी धुर कांग्रेसी हैं. इस पर वो आरएसएस के कार्यक्रम में हिस्सा ले रहे थे, ऐसे में कांग्रेस के कई नेताओं ने उनसे कार्यक्रम में हिस्सा न लेने का निवेदन कर रहे थे. लेकिन प्रणब मुखर्जी वहां गए. (फोटो-पीटीआई)

प्रणब मुखर्जी धुर कांग्रेसी हैं. इस पर वो आरएसएस के कार्यक्रम में हिस्सा ले रहे थे, ऐसे में कांग्रेस के कई नेताओं ने उनसे कार्यक्रम में हिस्सा न लेने का निवेदन कर रहे थे. लेकिन प्रणब मुखर्जी वहां गए. (फोटो-पीटीआई)

X
3/ 12
वो नागपुर में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के साथ आरएसएस के संस्थापक केशव बलिराम हेडेगवार की जन्मस्थली पर भी गए थे. (फोटो-पीटीआई)

वो नागपुर में आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के साथ आरएसएस के संस्थापक केशव बलिराम हेडेगवार की जन्मस्थली पर भी गए थे. (फोटो-पीटीआई)

X
4/ 12
उन्होंने केशव बलिराम हेडेगवार को श्रद्धांजली भी अर्पित की. (फोटो-पीटीआई)

उन्होंने केशव बलिराम हेडेगवार को श्रद्धांजली भी अर्पित की. (फोटो-पीटीआई)

X
5/ 12
उन्होंंने हेडेगवार को भारत माता का सपूत बताया. (फोटो-पीटीआई)

उन्होंंने हेडेगवार को भारत माता का सपूत बताया. (फोटो-पीटीआई)

X
6/ 12
प्रणब मुखर्जी का स्वागत आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने किया. (फोटो-पीटीआई)

प्रणब मुखर्जी का स्वागत आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने किया. (फोटो-पीटीआई)

X
7/ 12
प्रणब मुखर्जी का स्वागत आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने किया. (फोटो-पीटीआई)

प्रणब मुखर्जी का स्वागत आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने किया. (फोटो-पीटीआई)

X
8/ 12
प्रणब मुखर्जी आरएसएस के इस कार्यक्रम में सफेद धोती-कुर्ता और काली सदरी में आए थे. (फोटो-पीटीआई)

प्रणब मुखर्जी आरएसएस के इस कार्यक्रम में सफेद धोती-कुर्ता और काली सदरी में आए थे. (फोटो-पीटीआई)

X
9/ 12
पूर्व राष्ट्रपति आरएसएस के ध्वज प्रणाम के दौरान सावधान मुद्रा में खड़े रहे. (फोटो-पीटीआई)

पूर्व राष्ट्रपति आरएसएस के ध्वज प्रणाम के दौरान सावधान मुद्रा में खड़े रहे. (फोटो-पीटीआई)

X
10/ 12
प्रणब दा ने अपने संबोधन में नेहरु और गांधी के धर्मनिरपेक्ष, सहिष्णु और बहुलतावादी भारत की बात की. (फोटो- पीटीआई)

प्रणब दा ने अपने संबोधन में नेहरु और गांधी के धर्मनिरपेक्ष, सहिष्णु और बहुलतावादी भारत की बात की. (फोटो- पीटीआई)

X
11/ 12
उन्होंने कहा कि 'भारत की राष्ट्रीय पहचान सदियों के मेल-जोल और साथ रहने से बनी है. आधुनिक भारत को कई भारतीय नेताओं ने परिभाषित किया है और ये भारतीयता किसी नस्ल या धर्म से नहीं जुड़ी है.' (फोटो-पीटीआई)

उन्होंने कहा कि 'भारत की राष्ट्रीय पहचान सदियों के मेल-जोल और साथ रहने से बनी है. आधुनिक भारत को कई भारतीय नेताओं ने परिभाषित किया है और ये भारतीयता किसी नस्ल या धर्म से नहीं जुड़ी है.' (फोटो-पीटीआई)

X
12/ 12
कार्यक्रम का समापन मोहन भागवत के भाषण के साथ हुआ. भागवत ने कहा- ‘कार्यक्रम में शामिल होने और संवाद राष्ट्र, राष्ट्रवाद और देशभक्ति की विचारधारा के ही गिर्द रखने के लिये हम लोग उनका धन्यवाद करते हैं.’ (फोटो-पीटीआई)

कार्यक्रम का समापन मोहन भागवत के भाषण के साथ हुआ. भागवत ने कहा- ‘कार्यक्रम में शामिल होने और संवाद राष्ट्र, राष्ट्रवाद और देशभक्ति की विचारधारा के ही गिर्द रखने के लिये हम लोग उनका धन्यवाद करते हैं.’ (फोटो-पीटीआई)

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी