S M L

जीका वायरस का घातक मोइक्रोसीफेली से संबंध नहीं: स्वास्थ्य मंत्रालय

माइक्रोसीफेली के कारण वायरस से पीड़ित माताओं के नवजात बच्चों में जन्म से ही गंभीर विकार होते हैं

Updated On: Nov 03, 2018 09:19 PM IST

Bhasha

0
जीका वायरस का घातक मोइक्रोसीफेली से संबंध नहीं: स्वास्थ्य मंत्रालय
Loading...

स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार जयपुर से संग्रहीत जीका वायरस के विश्लेषण से स्पष्ट है कि इसके गंभीर माइक्रोसीफेली (जब नवजात का सिर असामान्य रूप से छोटा रह जाता है) से म्यूटेशन से कोई संबंध नहीं है.

माइक्रोसीफेली के कारण वायरस से पीड़ित माताओं के नवजात बच्चों में जन्म से ही गंभीर विकार होते हैं. आईसीएमआर-एनआईवी पुणे ने जयपुर में फैले जीका वायरस के पांच अलग-अलग समय पर नमूने एकत्रित किए थे.

मंत्रालय ने शनिवार को बताया, ‘नेक्स्ट जेनरेशन सिक्वेंसिंग के माध्यम से जीका वायरस पर किए गए उन्नत आण्विक अध्ययन से पता चलता है कि एडीज मच्छरों में जीका वायरस से जुड़े घातक माइक्रोसीफेली वर्तमान जीका वायरस में मौजूद नहीं हैं जिससे राजस्थान प्रभावित रहा.’

बहरहाल, सरकार ने कहा है कि जीका वायरस से पीड़ित महिलाओं में गर्भधारण के दौरान समस्याएं पैदा होने की संभावना है.

राजस्थान की राजधानी जयपुर में जीका वायरस से संक्रमण के आठ नए मामले सामने आए हैं. राजस्थान के चिकित्सा व स्वास्थ्य मंत्री कालीचरण सराफ ने यह जानकारी दी. मंत्री की अध्यक्षता में विभाग की समीक्षा बैठक के बाद जीका संक्रमित लोगों की संख्या जारी की गई.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi