S M L

जल्द भारत के कब्जे में होगा जाकिर नाईक, पूरी हुई कानूनी प्रक्रिया

विदेश मंत्रालय का यह बयान ऐसे समय में सामने आया है जब ऐसी खबरें आ रही हैं कि कट्टरपंथी इस्लामिक प्रवचनकर्ता को मलेशिया में स्थायी निवास प्रदान किया गया है

Updated On: Nov 09, 2017 06:32 PM IST

Bhasha

0
जल्द भारत के कब्जे में होगा जाकिर नाईक, पूरी हुई कानूनी प्रक्रिया

विदेश मंत्रालय ने गुरुवार को कहा कि मलेशिया से जाकिर नाईक के प्रत्यर्पण के लिये संपर्क करने के संबंध में आंतरिक कानूनी प्रक्रिया पूरी होने के करीब हैं और जल्द ही उसके प्रत्यर्पण के लिए आग्रह किया जाएगा.

जाकिर नाईक पर NIA ने युवाओं में कट्टरवाद फैलाने का आरोप लगाया है. विदेश मंत्रालय का यह बयान ऐसे समय में सामने आया है जब ऐसी खबरें आ रही हैं कि कट्टरपंथी इस्लामिक प्रवचनकर्ता को मलेशिया में स्थायी निवास प्रदान किया गया है.

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने संवाददताओं से कहा कि प्रत्यर्पण के आग्रह के संबंध में किसी दूसरे देश से सम्पर्क करने से पहले की भारत की आंतरिक कानूनी प्रक्रिया नाईक के मामले में पूरी होने के करीब है.

उन्होंने कहा कि जब प्रत्यर्पण के बारे में कोई औपचारिक आग्रह दूसरे सरकार के पास भेजना होता है तब जरूरी है कि हम पहले अपना आंतरिक काम पूरा कर लें. इस बारे में अंतर विभागीय चर्चा चल रही है. हमारी कानूनी प्रक्रिया पूरी होने के करीब है और इसके बाद हम मलेशियाई सरकार के पारस जल्द ही प्रत्यर्पण का आग्रह करेंगे.

मीडिया में आई खबरों के मुताबिक, नाइक को पांच साल पहले ही वहां स्थाई निवास प्रदान कर दिया गया था. मलेशिया के अखबारों में छपी खबरों के अनुसार देश के उप प्रधानमंत्री अहमद जाहिद हमीदी ने मलेशिया के निचले सदन को बताया कि नाईक के प्रत्यर्पण को लेकर भारत से अभी कोई औपचारिक अनुरोध नहीं आया है. उन्होंने साथ ही कहा कि अगर भारत से ऐसा कोई अनुरोध आएगा तो नाईक को भारत को सौंप दिया जाएगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi