S M L

योगी सरकार का फरमान: आलस किया तो अधिकारी किये जाएंगे रिटायर

सरकार ने अधिकारियों के काम में चुस्ती लाने के उद्देश्य से यह आदेश जारी किया है

Updated On: Jul 07, 2017 04:58 PM IST

FP Staff

0
योगी सरकार का फरमान: आलस किया तो अधिकारी किये जाएंगे रिटायर

यूपी की योगी सरकार अधिकारियों के सुस्त पाए जाने पर उन्हें रिटायर कर सकती है. सरकार ने गुरुवार को 50 साल से ज्यादा की उम्र में सुस्त हो जाने वाले अधिकारियों को रिटायरमेंट देने का फैसला किया है.

उत्तर प्रदेश सरकार केंद्र के नक्शेकदम पर चलती हुई नजर आ रही है. सरकार ने फैसला किया है कि जो सरकारी कर्मचारी और अधिकारी काम में सुस्त हैं, उन्हें अनिवार्य रिटायरमेंट दिया जाएगा. सरकार के मुख्य सचिव राजीव कुमार ने गुरूवार को यह जानकारी दी.

इसके लिए कार्मिक विभाग ने बाकायदा आदेश जारी कर दिया है. इससे कई अधिकारियों की नौकरी पर खतरे में आ सकती है.

अगर नोटिस के बाद भी नहीं सुधरे तो गिरेगी गाज

ऐसे कर्मचारियों और अधिकारियों की लिस्ट तैयार करने के बाद उन्हें नोटिस जारी किया जाएगा. नोटिस में रिटायरमेंट का कोई कारण नहीं बताया जाएगा और सुधार के लिए तीन महीने का वक्त दिया जाएगा. अगर सुधार नहीं नजर आया तो उन्हें कार्यमुक्त कर दिया जाएगा.

जिस स्क्रीनिंग कमिटी को यह कार्य सौपा गया है वह एक रिपोर्ट सौंपेंगे जिसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी.

शुरुआती समय में केंद्र सरकार ने भी यह योजना अपनाई थी जो कारगर मानी गई. अब उत्तर प्रदेश सरकार ने यह योजना अपनाई है जिसका असर 3 महीने बाद नजर आने की उम्मीद है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi