S M L

मुस्लिम छात्रा ने किया गीता पाठ तो जारी हुआ फतवा

इस पर्फोर्मेंस के बाद दारूल उलूम देवबंद ने फतवा जारी कर इस कार्यक्रम को गैर इस्लामी करार दिया था

Updated On: Jan 04, 2018 05:05 PM IST

FP Staff

0
मुस्लिम छात्रा ने किया गीता पाठ तो जारी हुआ फतवा

एक मुस्लिम छात्रा के स्टेज पर भगवान कृष्ण के रूप में गीता श्लोक का उच्चारण करना महंगा पड़ गया. छात्रा की इस पर्फोर्मेंस से नाराज होकर उलेमाओं में खलबली मच गई. इस कार्यक्रम को दारूल उलूम देवबंद ने गैर इस्लामी करार दिया था.

इस पर नाराजगी जताते हुए उलेमाओं ने कहा था कि इस्लाम इसकी इजाजत नहीं देता. छात्रा की पर्फोर्मेंस से खुश होकर सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी उसे सम्मानित किया था. इस कार्यक्रम में लड़की ने दूसरा स्थान हासिल किया था.

30 दिसंबर को स्वतंत्रता सेनानी बाल गंगाधर तिलक की याद में यह कार्यक्रम किया गया था. आलिया ने पर्फोर्मेंस देख सीएम योगी ने कहा था कि आलिया की मजहब चाहे इस्लाम है, लेकिन उसने जिस लय के साथ गीता का पाठ किया, वह सराहनीय है.

अपनी इस पर्फोमेंस पर मेरठ की रहने वाली आलिया खान ने भी प्रतिक्रिया दी है. आलिया ने कहा 'मैंने कार्यक्रम में कृष्णा की वेशभूषा पहनी और गीता का पाठ किया. इस्लाम इतना कमजोर नहीं है कि मुझे गीता का पाठ और कोई ड्रेस पहनने से रोक दिया. उन्होंने फतवा जारी किया, लेकिन मैं सबसे प्रार्थना करती हूं कि मुझे राजनीति में ना घसीटा जाए.'

यह फतवा नए साल के पहले दिन जारी किया गया था. इस पर पहले भी आलिया अपनी प्रतिक्रिया दे चुकी है. बावजूद इन सबके दारूल उलूम देवबंद की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi