S M L

मराठी साहित्य समारोह में निमंत्रण रद्द होने पर नयनतारा को राजनीतिक दवाब की आशंका

नयनतारा को 92वें साहित्य सभा सम्मेलन के उद्घाटन कार्यक्रम में आमंत्रित किया गया था, लेकिन महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के कार्यकर्ताओं ने कार्यक्रम के आयोजकों को धमकी दी कि वह निमंत्रण वापस ले लें

Updated On: Jan 08, 2019 04:08 PM IST

FP Staff

0
मराठी साहित्य समारोह में निमंत्रण रद्द होने पर नयनतारा को राजनीतिक दवाब की आशंका

महाराष्ट्र में आयोजित होने जा रहे मराठी भाषा के कार्यक्रम अखिल भारतीय मराठी साहित्य सभा में आमंत्रण वापस लिए जाने पर नयनतारा सहगल ने इसके पीछे किसी राजनीतिक दवाब का संदेह जताया है. साथ ही उनका कहना है कि कार्यक्रम रद्द किए जाने की यह कार्रवाही सिर्फ लेखकों तक ही सीमित नहीं है.

नयनतारा को 92वें साहित्य सभा सम्मेलन के उद्घाटन कार्यक्रम में आमंत्रित किया गया था. लेकिन महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के कार्यकर्ताओं ने कार्यक्रम के आयोजकों को धमकी दी कि वह निमंत्रण वापस ले लें. कार्यकर्ताओं का कहना था कि नयनतारा अंग्रेजी भाषा की लेखक हैं और मराठी साहित्य सभा का उद्धघाटन किसी मराठी लेखक को ही करना चाहिए.

लेखकों के अलावा और भी लोगों का कार्यक्रम हुआ रद्द

इसपर मंगलवार को जब नयनतारा सहगल से न्यूज एजेंसी एएनआई ने बातचीत की तो उन्होंने कहा कि उन्हे निमंत्रण वापस लिए जाने का कारण तो नहीं पता लेकिन इसके पीछे किसी राजनीतिक दवाब का उन्हें संदेह है. उन्होंने कहा, 'टीएम कृष्ण, रामचंद्र गूहा और गोपाल गांधी के कार्यक्रम भी रद्द किए गए हैं, यह सिर्फ लेखकों तक सीमित नहीं है.'

हालांकि इन खबरों के बीच एमएनएस प्रमुख राज ठाकरे ने पहल ही साफ कर दिया था कि उनकी पार्टी को नयनतारा के कार्यक्रम में शामिल होने से कोई आपत्ति नहीं है. साथ ही ठाकरे ने नयनतारा को हुई तकलीफ के लिए माफी मांगी और उनके उद्धघाटन समारोह पर आने से संबंधित एक आधिकारिक बयान भी ट्वीट किया.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi