S M L

डसॉल्ट-रिलायंस एयरोस्पेस पार्क की इस हफ्ते रखी जाएगी नींव

भारत में 36 राफेल लड़ाकू विमानों की आपूर्ति के लिए डसॉल्ट की ऑफसेट प्रतिबद्धताओं के तौर पर यह संयुक्त उपक्रम (ज्वॉइंट वेंचर) स्थापित किया जा रहा है

Updated On: Oct 24, 2017 05:05 PM IST

Bhasha

0
डसॉल्ट-रिलायंस एयरोस्पेस पार्क की इस हफ्ते रखी जाएगी नींव

फ्रांस की विमान निर्माता कंपनी डसॉल्ट एविएशन और रिलायंस एयरोस्पेस लिमिटेड इस हफ्ते एक एयरोस्पेस पार्क की नींव रखेंगी. यहां भारतीय और वैश्विक बाजार के लिए विमान के कलपुर्जों का निर्माण किया जाएगा.

एक अधिकारी ने बताया कि फ्रांस के रक्षा मंत्री फ्लोरेंस पार्ले, डसॉल्ट एविएशन के शीर्ष अधिकारी और रिलायंस समूह के अध्यक्ष अनिल अंबानी शुक्रवार को नागपुर में आयोजित होने वाले इस समारोह में हिस्सा लेंगे.

धीरूभाई अंबानी एयरोस्पेट पार्क (डीएएपी) की स्थापना शहर के मिहान विशेष आर्थिक क्षेत्र में की जा रही है.

भारत में 36 राफेल लड़ाकू विमानों की आपूर्ति के 58 हजार करोड़ रुपए के सौदे के लिए डसॉल्ट की ऑफसेट प्रतिबद्धताओं के तौर पर यह संयुक्त उपक्रम (ज्वॉइंट वेंचर) स्थापित किया जा रहा है. इस सौदे पर पिछले साल सितंबर में दस्तखत किए गए थे.

289 एकड़ में फैले डीएएपी को भारत में सबसे बड़ी ग्रीनफील्ड एयरोस्पेस परियोजना बताया जा रहा है. यह संयुक्त उपक्रम राफेल ऑफसेट कार्यक्रम के क्रियान्वयन के लिए मुख्य इकाई होगा.

अधिकारी ने बताया कि इस एयरोस्पेस पार्क में विमान के लिए निर्माण सुविधा होगी और यह वैश्विक बाजारों के लिए विमान के पुर्जे बनाएगा.

उन्होंने कहा कि डसॉल्ट-रिलायंस साझेदारी न केवल तकनीक का हाई स्टैंडर्ड ट्रांसफर करेगी बल्कि घरेलू एयरोस्पेस क्षेत्र के लिए पारिस्थितिकी तंत्र विकसित करने में भी मदद करेगी.

एक अधिकारी ने नाम बताने की शर्त पर बताया कि यहां वर्ष 2018 की पहली तिमाही में निर्माण कार्य आरंभ होने की उम्मीद है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi