In association with
S M L

कार्यस्थल पर यौन उत्पीड़न की महिलाएं कर सकेंगी ऑनलाइन शिकायत

मेनका गांधी ने महिलाओं से अपील की है कि वो अपनी वास्तविक समस्याओं की ऑनलाइन शिकायत जरूर कराएं. मगर वो इसका इस्तेमाल किसी ‘हल्की शिकायत’ के लिए नहीं करें

Bhasha Updated On: Nov 07, 2017 08:55 PM IST

0
कार्यस्थल पर यौन उत्पीड़न की महिलाएं कर सकेंगी ऑनलाइन शिकायत

केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने वर्क प्लेस (कार्यस्थल) पर महिलाओं से यौन उत्पीड़न संबंधी शिकायतों को ऑनलाइन दर्ज कराने के लिए ऑनलाइन शिकायत प्रबंधन प्रणाली ‘एसएचई बाक्स’ (यौन उत्पीड़न इलेक्ट्रानिक बाक्स) शुरू किया. उन्होंने कहा कि शिकायत दर्ज होने के दिन से ही उस पर कार्रवाई शुरू होगी.

‘एसएचई बाक्स’ (यौन उत्पीड़न इलेक्ट्रानिक बाक्स) महिला और बाल कल्याण मंत्रालय की वेबसाइट पर होगा.

मेनका ने मंगलवार को बताया कि उनके मंत्रालय के तहत एक प्रकोष्ठ (सेल) ऑनलाइन दर्ज करवाई गई हर शिकायत को देखेगा. वह इसे संबद्ध संगठन की आतंरिक शिकायत समिति के साथ साझा करेगा. कानून के तहत ऐसी समिति बनाना अनिवार्य है.

शिकायतकर्ता इस समिति द्वारा की जा रही जांच की स्थिति पर भी नजर रख सकेगी.

महिला और बाल कल्याण मंत्री ने कहा कि अभी तक मंत्रालय ने सरकारी महिला कर्मचारियों के लिए वर्क प्लेस पर यौन उत्पीड़न की आनलाइन शिकायत दर्ज करवाने के लिए एक हेल्पलाइन शुरू की थी. इस पर मंत्रालय को 346 शिकायतें मिलीं.

ManekaGandhi

मेनका गांधी

मेनका ने कहा कि उनका मंत्रालय शिकायत मिलने के दिन से ही उस पर कार्रवाई करने लगता है. उन्होंने कहा कि इन शिकायतों पर कार्रवाई के लिए स्थानीय पुलिस और गृह मंत्रालय सहित अन्य मंत्रालयों के अधिकारियों के साथ समन्वय किया जाता है.

उन्होंने महिलाओं से अपील की है कि वो अपनी वास्तविक समस्याओं की ऑनलाइन शिकायत जरूर कराएं. किंतु वो इसका इस्तेमाल किसी ‘हल्की शिकायत’ के लिए नहीं करें. उन्होंने कहा कि ‘हल्की शिकायत’ करने से इसका मकसद विफल हो जाता है.

मेनका ने बताया कि उनके मंत्रालय ने पहले भी सरकारी कर्मचारियों के लिए एक वेब पेज शुरू किया था जिसका विस्तार अब निजी क्षेत्र के लिए भी किया गया है.

एसएचई बॉक्स का इस्तेमाल करने वालों के पास पोर्टल के जरिए महिला और बाल कल्याण मंत्रालय के अधिकारियों से संवाद करने का विकल्प होगा. उन्हें तय समय में जवाब दिया जाएगा.

इस पोर्टल में उन 112 संगठनों की जानकारी भी दी गई है जिन्हें महिला और बाल कल्याण मंत्रालय ने वर्क प्लेस पर यौन उत्पीड़न मुद्दे पर कार्रवाई के लिए प्रशिक्षण: कार्यशाला चलाने के लिए सूचीबद्ध कर रखा है.

वर्क प्लेस पर यौन उत्पीड़न कानून 2013 के तहत 10 या अधिक कर्मचारी वाले किसी भी संगठन के लिए आतंरिक शिकायत समिति का गठन करना अनिवार्य है जो यौन उत्पीड़न संबंधी शिकायतों का निपटारा कर सके.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
जापानी लक्ज़री ब्रांड Lexus की LS500H भारत में लॉन्च

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi