Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

खराब सड़कों की वजह से रास्ते में ही पैदा हो रहे हैं बच्चे: ओडिशा

खराब रास्ते भी एंबुलेंस का रास्ता रोकते हैं, जिसकी वजह से महिलाएं अस्पताल नहीं पहुंच पाती

FP Staff Updated On: Jul 27, 2017 09:15 PM IST

0
खराब सड़कों की वजह से रास्ते में ही पैदा हो रहे हैं बच्चे: ओडिशा

ओडिशा में एंबुलेंस कभी नहीं आती. पिछले 24 घंटों में दो ऐसे वाकये हुए हैं जब स्ट्रैचर पर लादकर कई किलोमीटर दूर अस्पताल ले जाई जा रही ग्रामीण महिलाओं ने बच्चे को जन्म दे दिया. इसकी मुख्य वजह खराब रास्ते भी हैं.

तीसरे मामले में जब एक अन्य महिला को अस्पताल तक पहुंचाया जा रहा था, तो उसकी हालत बहुत बिगड़ गई. उसने मृत बच्चे को जन्म दिया.

एंबुलेंस फोन के बाद भी नहीं आई

तीनों मामलों में फोन करने के बाद भी एंबुलेंस गांव तक नहीं पहुंची. राजू सांता की पत्नी कलावती को दर्द हो रहा था. जब 108 नंबर पर फोन कर के एंबुलेंस बुलाने की कोशिश की गई तो घंटों की कोशिश के बाद संपर्क हो पाया. लेकिन एंबुलेंस वालों ने खराब सड़क के चलते आधे रास्ते से आगे आने से मना कर दिया. गांव से चार किलोमीटर पहले ही एंबुलेंस आकर रुक गई. ऐसे में गांव वाले जब उसे स्ट्रैचर पर हवा में लटकाए एंबुलेंस तक पहुंचा रहे थे, तब उसने बच्चे को जन्म दे दिया.

दूसरा मामला

दूसरा मामला नबरंगपुर जिले के उमरकोटे का है, जहां पहनारी कुमुंडा को रात में गांव से अस्पताल के लिए लाया जा रहा था, तो खराब सड़क के चलते उसने रास्ते में ही बच्चे को जन्म दे दिया.

आप्रेशन के बाद मृत बच्चा

एक अन्य मामले में भी एंबुलेंस के नहीं पहुंचने की बात सामने आई. कालाहांडी जिले के कंसाबुंदई गांव में मालती को डिलिवरी के लिए एक परिचित के वाहन पर बिठाकर छह किलोमीटर दूर अस्पताल ले जाया गया. वह अस्पताल तो पहुंच गई लेकिन खराब सड़कों ने उसकी हालत गंभीर कर दी. अस्पताल पहुंचने के दौरान उसकी हालत बिगड़ गई. उसे मृत बच्चा पैदा हुआ.

लगातार हो रहे हैं ऐसे मामले

ओडिशा के गांवों में ऐसी घटनाएं लगातार हो रही हैं. बारिश के कारण रास्ते खराब हो गए हैं या फिर सड़के बहुत बुरे हाल में आ गई हैं. ऐसे में शायद ही एंबुलेंस की मदद उन्हें मिल पाती है और खराब रास्तों के चलते अस्पताल से पहले ही उन्हें डिलिवरी हो जाती है

(साभार न्यूज़ 18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
AUTO EXPO 2018: MARUTI SUZUKI की नई SWIFT का इंतजार हुआ खत्म

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi